Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890
News That Matters

रात 1.30 बजे बदमाश दुर्लभ की 11 चाकू मारकर हत्या


चाय की दुकान पर हुए विवाद में दुर्लभ ने चलाई थी गोली, हेलावाड़ी क्षेत्र में हुआ घटनाक्रम, आज सुबह पुलिस बल की मौजूदगी में हुआ पोस्टमार्टम
माटी की महिमा न्यूज /उज्जैन

फेसबुक पर डर और दहशत का माहौल बनाकर शहर में गोली चलाने वाले कुख्यात बदमाश दुर्लभ कश्यप की बीती रात तत्कालीन विवाद के चलते 11 चाकू मारकर हत्या कर दी गई। विवाद के दौरान दुर्लभ ने गोली चलाई थी। एक युवक घायल हुआ है जिसे उपचार के लिए इंदौर भेजा गया है।
जीवाजी गंज थाना क्षेत्र के हेलावाडी में रात 1.30 बजे के लगभग कुख्यात बदमाश दुर्लभ कश्यप अपने साथी अमित, चयन और अभिषेक के साथ एक्टिवा पर सवार होकर पहुंचा था। जहां चाय की दुकान पर सिगरेट और चाय का आर्डर दिया। दुकान पर खड़े शाहनवाज और शादाब से इस दौरान दुर्लभ का अचानक विवाद हो गया। दुर्लभ ने अपने पास रखा कट्टा निकाला और गोली चला दी। शाहनवाज के गले में गोली लगी और वह जमीन पर गिर गया। घटनाक्रम घटित होते ही घायल शाहनवाज के साथियों शादाब, रमीज और राजा ने दुर्लभ कश्यप को घेर लिया। यह देख दुर्लभ के साथी एक्टिवा लेकर भाग निकले। दुर्लभ को घेरने वाले युवकों ने उस पर चाकुओं से हमला कर दिया। जान बचाने के लिए दुर्लभ ने कुछ दूर दौड़ लगाई लेकिन चाकू के एक दर्जन वार लगने और खून अधिक बहने से उसकी मौत हो गई। जानकारी लगते ही रात 2 बजे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रूपेश द्विवेदी और जीवाजीगंज थाना पुलिस मौके पर पहुंच गए। घटनास्थल पर एफएसएल अधिकारी डॉ. प्रीति गायकवाड़ को विवेचना के लिए बुलाया गया। करीब एक से डेढ़ घंटे की विवेचना के बाद बदमाश दुर्लभ का शव जिला अस्पताल पोस्टमार्टम कक्ष लाया गया।

2018 से फैला रहा था दहशत
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रूपेश द्विवेदी के अनुसार दुर्लभ कश्यप के आपराधिक मामलों की जानकारी 2018 में सामने आई थी। अपने फेसबुक के माध्यम से शहर में दहशत फैलाना शुरू किया था और अवंतीपुरा में अर्जुन मालवीय गैंग के साथ उसका गैंगवार हुआ था। उस दौरान गोलियां चली थी। पुलिस अधीक्षक रहे सचिन अतुलकर ने दुर्लभ गैंग के 23 सदस्यों को गिरफ्तार किया था। जिनकी फेसबुक पर दहशतगर्दी के कमेंट निकालकर उजागर किए गए थे। दुर्लभ के खिलाफ 8 से 10 आपराधिक मामले दर्ज किए गए थे। उसने नाबालिग रहते हुए अपराध की शुरुआत की थी। उसकी गैंग में नई उम्र के लड़के शामिल थे जिन पर शिकंजा कसने के लिए प्रतिबंधात्मक कार्यवाही की गई थी।

घटनास्थल पर पुलिस बल तैनात

घायल शाहनवाज को इंदौर भेजा
गोली लगने से घायल शाहनवाज को उसके कुछ साथी जिला अस्पताल लेकर पहुंचे थे। जहां से उसे रात में ही उपचार के लिए इंदौर रैफर कर दिया गया है। मामले में पुलिस ने शाहनवाज की ओर से चाय की दुकान चलाने वाले भूरा की शिकायत पर मामला दर्ज किया है। वहीं दुर्लभ की ओर से अभिषेक पिता शांतिलाल शर्मा निवासी गीता कॉलोनी की शिकायत पर प्रकरण दर्ज कर जांच में लिया है। बताया जा रहा है कि अब्दालपुरा में रात को दुर्लभ ने अपने साथियों के साथ पार्टी मनाई थी उसके बाद सिगरेट लेने पहुंचा था।
अस्पताल में तैनात दिखा पुलिस बल
कुख्यात बदमाश दुर्लभ की हत्या के बाद रात में घटनास्थल पर पुलिस बल के तैनाती कर दी गई थी। साथ ही आज सुबह पोस्टमार्टम कक्ष के सामने से लेकर अस्पताल परिसर में पुलिस बल तैनात कर दिया गया था। पुलिस आने-जाने वालों पर नजर रख रही थी। वही पोस्टमार्टम कक्ष की ओर दुर्लभ के साथियों को जाने से रोका जा रहा था। पुलिस पूरी तरह से मुस्तैद नजर आ रही थी। पोस्टमार्टम के बाद दुर्लभ की अंत्येष्टि में भी पुलिस की मौजूदगी रहने की जानकारी बताई गई है।
हिरासत में लिए गए कुछ युवक
देर रात हुए घटनाक्रम के बाद पुलिस ने दोनों पक्षों के कुछ युवकों को हिरासत में लिया है जिनसे घटनाक्रम के संबंध में पूछताछ की जा रही है। पुलिस इस बात का पता लगा रही है कि आखिर किस बात को लेकर घटनास्थल पर विवाद हुआ था। मामले में क्रॉस प्रकरण दर्ज किया गया है। संभवत: खुलासा भी जल्द कर दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: