Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890

10 जून से चल रहा है आंदोलन, 25 जून से करेंगे अनिश्चितकालीन हड़ताल
माटी की महिमा न्यूज /उज्जैन

स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग की नर्सेस और कर्मचारियों ने अपनी लंबित मांगों को लेकर आज दूसरी बार प्रदर्शन करते हुए जिला अस्पताल की ओपीडी के बाहर ताली बजाते हुए प्रदर्शन किया और मांगों का जल्द निराकरण करने की बात कही। आगामी दिनों में कर्मचारी और अधिकारियों द्वारा दो चरण में और प्रदर्शन किया जाएगा जिसमें सामूहिक अवकाश लेने के साथ अनिश्चितकालीन हड़ताल की जाएगी।
हेल्थ डिपार्टमेंट अधिकारी और कर्मचारी संघ के प्रदेश अध्यक्ष सुरेन्द्रसिंह कौरव के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों द्वारा अपनी 8 सूत्रीय मांग को लेकर 10 जून से चरणबद्ध आंदोलन चलाया जा रहा है। जिसके दूसरे चरण में आज स्वास्थ्य विभाग में पदस्थ नर्सेस और कर्मचारियों ने ताली बजाकर प्रदर्शन किया। 10 जून से 12 जून तक कर्मचारियों ने काली पट्टी बांधकर कार्य किया था। कर्मचारियों और नर्सों का कहना था कि यह द्वितीय चरण का आंदोलन 18 जून तक चलाया जाएगा। तृतीय चरण में 18 से 21 जून तक सभी अपनी-अपनी संस्थाओं में मरीजों से सेवा के लिए क्षमा याचना मांगकर फल वितरण करेंगे। चौथे चरण में 22 जून को सामूहिक अवकाश लिया जाएगा और पांचवे चरण 25 जून से अनिश्चितकालीन हड़ताल की जाएगी। नर्सों ने बताया कि 8 सूत्रीय मांगों में शासन द्वारा नई दिल्ली और मुम्बई से कराए गए कोर्स में अब तक उन्हें सहायक अस्पताल प्रबंधक की जिम्मेदारी नहीं दी गई है। मांगों में इसे शामिल कर जिम्मेदारी सौंपनी की बात कही गई है। स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग में संचालन स्तर पर नर्सिंग संवर्ग का पद है। जिसे अब तक नहीं भरा गया है। नर्सेस भर्ती के लिए जारी विज्ञापनों में मेल नर्सों को भी शामिल करने की मांग आंदोलन के दौरान की जा रही है। वहीं समस्त मेडिकल कॉलेज के कर्मचारियों का सीसीएफ काटा जा रहा है परंतु आज दिनांक तक उनको नंबर आवंटित नहीं किया गया है जिससे उनका काटे गए पैसे का लेखा जोखा उन्हें नहीं मिल पा रहा है। अन्य मांगें भी काफी समय से स्वास्थ्य विभाग और प्रदेश सरकार से की जा रही है जिसे अब तक पूरा नहीं किया गया है। हर बार आश्वासन दिया जाता है। जबकि कोरोना काल में स्वास्थ्य विभाग ने योद्धा की तरह काम किया है और दिन-रात मरीजों की सेवा में लगे रहे हैं। बावजूद उनकी समस्याओं की ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है।
00000000

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!