Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890

दसई। नगर के नृसिह मंदिर के सामने स्थित अति प्राचीन शिव मंदिर में किसी शरारत तत्वों ने मूर्तियों में तोडफ़ोड़ की। 14-15 जून की दरमियानी रात हुई इस घटना की जानकारी लोगों को मिली तो लोग हतप्रभ रह गए। बड़ी संख्या में लोग मंदिर पहुंचे। पुलिस चौकी प्रभारी प्रशांत पाल ने मौके पर पहुंच कर आईपीसी की धारा 295 के तहत कार्य में की। 14 जून की शाम संध्या पूजन आरती के बाद पुजारी हेमंत बैरागी ने मंदिर के पट बंद किए। किसी शरारती तत्व ने शिवलिंग, हनुमान जी और गणेश जी की मूर्तियां तोड़ दी। मंगलवार सुबह मंदिर की बुहारी करने गई पंडित की माताजी ने घटना की सूचना घर पर दी। पंडित हेमंत बैरागी ने स्थानीय पुलिस चौकी प्रभारी और वरिष्ठ अधिकारी को सूचना दी। घटना स्थल का मुआयना करने के बाद चौकी प्रभारी ने बताया कि प्रथम दृष्टया मामला किसी विक्षिप्त मानसिकता या शरारती तत्व का लगता है। मामले की गंभीरता को समझते हुए चौकी प्रभारी प्रशांत पाल ने त्वरित कार्यवाही की और संदेह के आधार पर गबुरिया नाम के एक युवक को गिरफ्तार किया। कड़ी पूछताछ में गबुरिया ने मूर्ति तोडऩे का जुर्म कबूल किया और बताया कि मैं भगवान से बार-बार प्रार्थना करता था लेकिन भगवान मेरी नहीं सुनते थे इसलिए गुस्से में आकर शराब के नशे में मैंने मूर्ति तोड़ दी। 24 घंटे के अंदर पुलिस द्वारा मूर्ति भंजक को गिरफ्तार करने से लोगों ने राहत महसूस की और पुलिस की त्वरित कार्यवाही की प्रशंसा की है।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!
पुलिस द्वारा मूर्ति भंजक को गिरफ्तार किया