Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890

आज न्यायालय में पेश करेगी पुलिस, एक घंटे में मिली सफलता
माटी की महिमा न्यूज /उज्जैन

घर के बाहर खेल रहा मासूम गुरुवार शाम 4.30 बजे लापता हो गया। एक घंटे बाद पुलिस को अपहरण की जानकारी मिली और एक घंटे की मशक्कत के बाद पुलिस ने मासूम का अपहरण करने वाले युवक को यूनिवर्सिटी ग्राउण्ड से गिरफ्तार कर लिया।
माधवनगर टीआई मनीष लोधा ने बताया कि न्यू राजीव रत्न कॉलोनी में रहने वाली माया मालवीय का पांच वर्षीय बेटा काव्यांश पिता हेमराज मालवीय बीती शाम घर के बाहर बने मंदिर के समीप खेल रहा था। 4.30 बजे के करीब मां उसे देखने आई तो मासूम लापता था। आसपास सभी जगह तलाश किया गया। क्षेत्र के बच्चों से भी पूछताछ की गई। इस दौरान सामने आया कि उसे एक व्यक्ति बाइक पर बैठाकर ले गया है। 5.30 बजे के लगभग माया मालवीय ने थाने पहुंचकर सूचना दी। एसआई महेन्द्र मकाश्रे महिला के घर पहुंचे और क्षेत्र में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज देखे गए। जिसमें मासूम को ले जा रहा युवक माया मालवीय का परिचित होना सामने आ गया। जिससे पैसे को लेकर विवाद चल रहा था और उसने पैसे नहीं देने पर बच्चे को उठा ले जाने की धमकी भी दी थी। यह मामला सामने आते ही पुलिस ने तत्काल आरोपी की तलाश शुरू कर दी और कैमरों के माध्यम से यूनिवर्सिटी ग्राउण्ड तक पहुंची जहां मासूम को अपहरण कर ले जाने वाला जामुन और बिस्किट खिलाता हुआ दिखाई दिया। पुलिस ने तत्काल ही मासूम को अपने कब्जे में लेकर अपहरणकर्ता को हिरासत में लिया और बाइक जब्त कर थाने ले आई। पुलिस को सूचना मिलने के एक घंटे बाद ही आरोपी पकड़ा गया है जिसका नाम अजय पिता विजयसिंह निवासी ग्राम कढ़ाई मंदसौर होना सामने आया है। आज उसे न्यायालय में पेश किया जाएगा।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

मां ने उधार लिए थे 5 हजार
आरोपी के गिरफ्त में आने के बाद मासूम काव्यांश की मां माया मालवीय ने बताया कि अजय से उसकी पहचान फेसबुक के माध्यम से हुई थी। जिसका घर आना-जाना भी शुरू हो गया था। उससे 5 हजार रुपए उधार लिए थे जिसको लौटाने की बात को लेकर विवाद हो गया था। मामले की शिकायत थाने पर की गई थी जिसमें समझौता हुआ था। लेकिन अजय फिर भी पैसे को लेकर दबाव बना रहा था। उसने धमकी दी थी। इधर अजय ने पूछताछ में बताया कि उसने अपहरण नहीं किया है। बच्चे से उसे लगाव हो गया था। जिसके चलते वह अपने साथ ले गया था। वहीं मामले में एएसपी रवीन्द्र वर्मा का कहना था कि माता-पिता की बिना अनुमति के बच्चे को ले जाने का मामला सामने आने के बाद आरोपी के खिलाफ अपहरण का केस दर्ज किया गया है।