Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890

सूरत। वरिष्ठ कांग्रेस नेता, पूर्व पार्टी अध्यक्ष और लोकसभा सांसद राहुल गांधी आपराधिक मानहानि के एक मामले में आज गुजरात के सूरत शहर की एक अदालत में पेश हुए। श्री गांधी हवाई अड्डे से यहां सत्र अदालत परिसर पहुंचे और वहां स्थित चीफ़ जूडिशियल मैजिस्ट्रेट ए एन दवे की अदालत में पेश हुए और उन्होंने अपना बयान दर्ज कराया। इससे पहले उन्होंने ट्वीट किया था कि अस्तित्व का पूरा रहस्य ही भयमुक्तता है।
यह मामला सूरत के स्थानीय भाजपा विधायक पूर्णेश मोदी ने दायर किया था। आरोप है कि 2019 के पिछले लोकसभा चुनाव के दौरान श्री गांधी ने कर्नाटक के कोलार में एक चुनावी रैली में पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के आरोपी और भगोड़े व्यवसायी नीरव मोदी, आईपीएल के पूर्व चेयरमैन ललित मोदी के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना करते हुए कहा था कि सभी मोदी चोर हैं। ऐसा कर उन्होंने मोदी समुदाय की भावना को आहत किया और मानहानि की थी। यह मामला भारतीय दंड संहिता की धारा 499 और 500 के तहत दर्ज की गयी थी।
श्री गांधी अदालत में पेशी के बाद नयी दिल्ली लौटने के लिए हवाई अड्डा रवाना हो गये
ज्ञातव्य है कि गुजरात में श्री गांधी के ख़िलाफ़ मानहानि के कुल तीन मामले दर्ज हैं। इनमे से दो अहमदाबाद में हैं। उन मामलों में उन्हें व्यक्तिगत पेशी से छूट और ज़मानत मिली हुई है। इनमे भी वह 11 अक्टूबर 2019 को अदालत में पेश हुए थे। इनमे से एक मामला अहमदाबाद महानगरपालिका के भाजपा के पार्षद कृष्णवदन ब्रह्मभट्ट ने दर्ज करायी है। उनका आरोप है कि श्री गांधी ने भाजपा के तत्कालीन अध्यक्ष अमित शाह को जबलपुर में अपनी एक चुनावी रैली में हत्या का आरोपी बता दिया था। दूसरा मामला अहमदाबाद जि़ला सहकारी बैंक के तत्कालीन चेयरमैन ए पटेल ने नोटबंदी के दौरान इस बैंक में बड़े पैमाने पर पुराने नोट बदलने के बारे में श्री गांधी के ट्वीट और बयान को लेकर दर्ज कराया था। तत्कालीन भाजपा अध्यक्ष अमित शाह इस बैंक के तब निदेशक भी थे।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!