Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

नई दिल्ली। वायु सेना के स्पेशल फोर्सेज के 69 गरुड़ कमांडोज का प्रशिक्षण पूरा होने पर गरुड़ रेजिमेंटल प्रशिक्षण केंद्र में मरून बेरेट सेरिमोनियल परेड (एमबीसीपी) हुई। ऑपरेशंस (ऑफेंसिव) एयर कमोडोर के. खजूरिया ने मुख्य अतिथि के रूप में पासिंग आउट परेड की समीक्षा की।
मुख्य अतिथि ने मेधावी प्रशिक्षुओं को प्रतिष्ठित ट्रॉफी से सम्मानित किया और सफल गरुड़ प्रशिक्षुओं को मरून बेरेट, गरुड़ प्रोफिशिएंसी बैज और स्पेशल फोर्सेज टैब प्रदान किए। एलएसी अखोका मुइवा को सर्वश्रेष्ठ ऑल राउंडर ट्रॉफी प्रदान की गई। युवा गरुड़ कमांडोज को दिए अपने संबोधन में मुख्य अतिथि ने प्रशिक्षुओं के लिए उच्च स्तर की व्यावसायिकता बनाए रखने की आवश्यकता पर जोर दिया। उन्होंने प्रशिक्षण कर्मचारियों को उनकी कड़ी मेहनत के लिए बधाई दी और उन्हें अपना उच्च स्तर बनाए रखने के लिए प्रोत्साहित किया। परेड के दौरान गरुड़ कमांडोज ने कॉम्बैट फायरिंग स्किल, होस्टेज रेस्क्यू फायरिंग ड्रिल, असॉल्ट एक्सप्लोसिव्स, ऑब्स्टेकल क्रासिंग ड्रिल, वॉल क्लाइंबिंग/स्लिदरिंग/रैपलिंग स्किल्स तथा मिलिट्री मार्शल आर्ट्स जैसे विभिन्न कौशलों का प्रदर्शन किया। मरून बेरेट सेरिमोनियल परेड गरुड़ कमांडोज के लिए गर्व और उपलब्धि का एक पल रहा जो युवा स्पेशल फोर्सेज ऑपेरेटर्स के रूप में उनके प्रशिक्षण की परिणति का द्योतक है।