Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN
News That Matters

भिंड जेल की दीवार गिरी, 21 कैदी दबे

सुबह प्लास्टर गिरने लगा तो कैदियों को बाहर निकालते समय हुआ हादसा, 2 गंभीर
भिंड।
भिंड में शनिवार सुबह करीब 5 बजे उपजेल के बैरक 6 और 7 की दीवार अचानक गिर गई। मलबे में 21 कैदी दब गए, जिन्हें दूसरे कैदियों की मदद से जेल प्रशासन ने निकाला। सभी को चोटें आई हैं। इसमें से दो की हालत गंभीर है। एक को ग्वालियर रेफर किया है।
सुबह प्लास्टर गिरने की सूचना प्रहरियों ने जेलर को दी। कैदियों ने बताया कि बारिश की वजह से लगातार आ रहे पानी से पुरानी दीवार गिर सकती है। जेल प्रशासन कैदियों को बाहर निकाले जाने के लिए बैरक खोलने लगा, तभी दोनों बैरकों की बारी-बारी से दीवार ढह गई। इसके बाद जिला प्रशासन और अस्पताल प्रबंधन को जेल प्रबंधन की ओर से सूचना की गई और एम्बुलेंस बुलाई गई। घायल कैदियों को उपचार के लिए जिला अस्पताल भेजा गया। यह सूचना पर जेल बंद बंदियों के परिजन भी पहले जेल और फिर अस्पताल पहुंचे। जेल की दीवार गिरने की जानकारी पर भिंड कलेक्टर डॉक्टर सतीश कुमार एस और एसपी मनोज कुमार सिंह भी मौके पर पहुंच गए। इस हादसे में घनश्याम बोहरे निवासी गोविंद नगर, केशव शिवहरे निवासी गोविंद नगर, ओमप्रकाश परमार निवासी अंबाह, गुड्डु उर्फ किशन कांत निवासी दबोह, सोनू उर्फ शत्रुघन सिंह निवासी शिवाजी नगर भिंड, अर्जुन राजावत निवासी पसिया सेसो थाना इटावा, अंकित लोधी निवासी गुडिय़ा खेड़ा भिंड, राजीव ओझा निवासी बीटीआइ रोड महावीर नगर भिंड, आकाश जाटव निवासी गिरधारी पुर औरैया, बॉबी निवासी रतनपुर औरैया, दिलीप यादव निवासी गीता भवन चौराहा भिंड, राहुल सिंह तोमर निवासी भिंड, रमेश सोनी निवासी हनुमान बजरिया भिंड, बंटू भदौरिया निवासी विजपुरी भिंड, महिपत सिंह निवासी ग्राम पुलावली थाना उमरी भिंड, छोटू रावत निवासी पुरानी बस्ती भिलवार मोहल्ला, दशरथ भदौरिया निवासी भिंड, रोहित भदौरिया निवासी खोड़ीपुरा भिंड, उदय सिंह निवासी जेल, शिवराज सिंह निवासी पुलावली भिंड, रामअवतार जाटव को चोटें आई हैं। यह सभी बंदी है, जो बैरक नंबर सात व दो में बंद थे।
यह जेल का निर्माण 1958 में हुआ था। तत्कालीन समय में जेल में 172 कैदी रखे जाने की व्यवस्था थी। यह दो मंजिला जेल के छोटे-छोटे बैरक में 50 से 60 कैदी रखे जा रहे हैं। वर्तमान में 256 कैदी बंद हैं। भिंड उपजेल के जेलर ओपी पांडेय ने बताया कि मैंने जेल की दीवार में पानी का रिसाव को लेकर लोक निर्माण विभाग को पत्र लिखा है। दीवार पानी के रिसाव के कारण गिरी है। समय रहते कैदियों को बाहर निकाला गया। 21 बंदी घायल हुए हैं। भिंड के कलेक्टर डॉक्टर सतीश कुमार एस ने बताया कि जेल की दीवार गिरने से बंदी घायल हुए। इस घटना की जांच कराई जाएगी। फिलहाल सभी घायल को उचित उपचार का प्रबंधन किया जा रहा है।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!
%d bloggers like this: