Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890

माटी की महिमा न्यूज /उज्जैन
बडऩगर थाना क्षेत्र के खरसौदकलां स्थित आदिनाथ पेट्रोल पंप के मैनेजर को लूटने वाले बदमाशों की तलाश में पुलिस ने आसपास के गांव में दबिश दी है। दो बदमाशों के फुटेज भी मिले हैं। जिसके आधार पर उनकी तलाश की जा रही है।
बडऩगर थाने के एसआई करणसिंह पाल ने बताया कि रविवार शाम खरसोदकलां में आदिनाथ पेट्रोल पंप का मैनेजर दिलीप गेहलोत दिनभर की राशि 1.47 हजार रुपए बेग में रख अपने घर बडऩगर लौट रहा था। सेमलिया चांदला पुलिया पर खड़े चार बदमाशों ने हमला कर रुपयों से भरा बेग और मोबाइल छीन लिया था। बदमाश दो बाइक पर सवार होकर भाग निकले थे। मामले की जानकारी लगने के बाद पुलिस ने मामला दर्ज किया है। वहीं सोमवार को वारदात स्थल से लेकर आसपास के क्षेत्रों में लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाले गए जिसमें दो बदमाश बाइक पर सवार दिखाई दिए हैं। फुटेज के आधार पर उनकी तलाश में गांव रणाहेड़ा, चिरोलाकलां, खरसोदकलां और आसपास के क्षेत्रों में दबिश दी गई। ग्रामीणों से बदमाशों की पहचान के प्रयास किए गए हैं। जल्द ही बदमाशों का सुराग लगा लिया जाएगा। वहीं उनके दो अन्य साथियों की भी पहचान कर ली जाएगी। बदमाश आसपास के प्रतीत हो रहे हैं। संभवत: उन्होंने रैकी कर बेग लूटने की वारदात को अंजाम दिया है। मैनेजर के अनुसार बदमाश पहले से ही पुलिया पर खड़े थे। उसके पहुंचते ही लाठियों से हमला कर उसे गिरा दिया था। उसके बाद बेग और मोबाइल लेकर भागे थे। बेग में रुपयों के साथ महत्वपूर्ण दस्तावेज भी रखे थे।
दर्जनों श्रद्धालुओं की कटी जेब
सावन मास का तीसरा सोमवार होने पर बाबा महाकाल के दर्शन करने हजारों श्रद्धालु धार्मिक नगरी में आये थे। सुबह मंदिर में दर्शन के लिये पहुंच रहे भक्तों की भीड़ में बदमाश पहुंच गये और एक दर्शन मोबाइल पर हाथ साफ कर दिया। मंदिर परिसर से लेकर आसपास बदमाश सक्रिय थे। मोबाइल के साथ बदमाशों ने पर्स भी उड़ाये है। 12 से 15 श्रद्धालु अपने साथ हुई वारदात की शिकायत लेकर महाकाल थाने पहुंचे थे, पुलिस ने सभी से शिकायती आवेदन लेकर जांच का आश्वासन दिया है। शाम को सवारी के दौरान भी कुछ वारदातें हुई हैं। पुलिस ने कुछ संदिग्धों को हिरासत में लिया, लेकिन उनसे मोबाइल पर्स बरामद नहीं हो सके। पहली सवारी के दौरान भी डेढ़ दर्जन से अधिक मोबाइल और पर्स चोरी के मामले थाने पहुंचे थे, दूसरी सवारी में कम मामले सामने आये थे, लेकिन तीसरे सोमवार को फिर से वारदात का ग्राफ बढ़ा है। गौरतलब हो कि आस्था की भीड़ में बाहर से बदमाशों की गैंग आती है, गैंग में शामिल सदस्य पर्स मोबाइल उड़ाने के बाद अपने दूसरे साथी को दे देती है।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!