Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

जबलपुर। जबलपुर में खेल-खेल में 7 साल के बच्चे की जान चली गई। लोहे के तार पर सूख रही चुनरी पकड़ कर खेल रहा था। इसी दौरान उसका गला फंस गया। पड़ोस में रहने वाली रिश्तेदार की आवाज सुनकर परिवार के लोग दौड़े। पिता चुनरी से लिपटे बेटे छुड़ाकर विक्टोरिया अस्पताल भागा। यहां डॉक्टरों ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया। पीयूष से छोटी दो बहनें हैं। रक्षाबंधन से पहले इकलौते भाई की मौत से उनका रो-रोकर बुरा हाल है।
हनुमानताल पुलिस के मुताबिक घटना बाबा टोला ठक्कर ग्राम की है। कुशलव का इकलौता बेटा पीयूष (7) आंगन में खेल रहा था। कुशलव और उसकी पत्नी, रिश्ते की चाची कमला चौधरी घर के दूसरे कामों में व्यस्त थीं। पड़ोस की रहने वाली दादी की चीख सुनकर परिवार के लोग दौड़कर पहुंचे तो पीयूष तार से लटका मिला। चुनरी में किसी तरह की गठान नहीं थी। पास में ही एक छोटा स्टूल पड़ा था। उसी पर चढ़कर वह चुनरी पकड़ कर खेल रहा था। पीयूष को पिता कुशलव लेकर विक्टोरिया अस्पताल पहुंचा, जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। करीब 5 बजे हनुमानताल पुलिस को खबर मिली। सीएसपी अखिलेश गौर, टीआई उमेश गोल्हानी और एफएसएल की डॉक्टर नीता जैन मौके पर पहुंची। डॉक्टर जैन के मुताबिक मासूम के गले में सामने और साइड में कसाव का निशान मिला है। शरीर पर चोट के निशान नहीं मिले हैं। प्रथम दृष्टया दम घुटने से ही मौत होना प्रतीत हो रहा है।