Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890

माटी की महिमा न्यूज /उज्जैन
दो दिनों से सक्रिय मानसून के बीच बीती रात 12 घंटे में 26.4 मिमी बारिश दर्ज की गई है। रात में हुई बारिश के बाद शिप्रा का जलस्तर बढ़ चुका है। मौसम अभी भी मेहरबान दिखाई दे रहा है। उम्मीद है कि दिनभर बारिश रूक-रूककर होती रहेगी।
सात दिनों के बाद गुरुवार को मानसून ने शहर का रूख कर लिया था। मौसम विभाग के साथ जीवाजीराव वेधशाला अधीक्षक राजेन्द्र कुमार गुप्त ने बताया था कि बंगाल की खाड़ी में सिस्टम सक्रिय हुआ है। जिसके चलते मानसून ने एक बार फिर दस्तक दी है। दो दिनों से शहर में रिमझिम बारिश हो रही थी। लेकिन रात में झमाझम बारिश हुई है। शुक्रवार शाम 6 बजे से शनिवार सुबह 6 बजे तक 26.4 मिमी बारिश याने कि 1 इंच से अधिक दर्ज हुई है। कुछ दिन मानसून की सक्रियता बनी रहेगी। इस बीच कभी तेज तो कभी रिमझिम बारिश का दौर जारी रहेगा। आसमान में बादल छाने और बारिश होने की वजह से अधिकतम तापमान में पिछले दिनों के मुकाबले गिरावट दर्ज की गई है। शुक्रवार को अधिकतम तापमान 26 डिग्री दर्ज किया गया था। बीती रात न्यूनतम तापमान 23 डिग्री रहा है। शाम को जहां 6 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से हवा चल रही थी, आज सुबह हवा की गति 2 किमी प्रतिघंटे की बनी हुई थी। वेधशाला अधीक्षक के अनुसार शहर की औसतन बारिश का आंकड़ा 36 इंच है जो अब तक हुई बारिश के चलते 22 इंच के करीब पहुंच चुका है। 30 सितंबर तक वर्षाकाल का समय है। इस बीच होने वाली बारिश के चलते औसतन आंकड़ा पूरा हो सकता है।
बारिश के बाद शिप्रा में बढ़ा जलस्तर
देर रात हुई तेज बारिश के बाद आज सुबह शिप्रा नदी का जलस्तर बढ़ता दिखाई दिया है। शहर के साथ ही आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में बारिश का पानी तेज रफ्तार के साथ शिप्रा के घाटों तक पहुंचा है। सुबह जलस्तर बढऩे के बाद घाट और उनसे लगे मंदिर डूबे दिखाई दे रहे थे। घाट पर तैनात होमगार्ड जवान और तैराकों के साथ पुलिस ने शिप्रा नदी तक पहुंचने वालों को सावधान रहने और गहरे पानी में स्नान के लिए जाने से रोकना शुरू कर दिया था। छोटी रपट का आवागमन बंद किया गया है। दिनभर बारिश हुई तो शिप्रा में एक बार फिर उफान की आशंका व्यक्त की गई है। इस वर्षाकाल में शिप्रा नदी में एक बार ही उफान नजर आया है। अब तक शिप्रा का जलस्तर बड़े पुल से ऊपर नहीं पहुंचा है।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!