Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890
News That Matters

प्रशासन ने इंदौर में अवैध अतिक्रमण ध्वस्त किए

इंदौर। शुक्रवार की सुबह जब कई लोग सोकर भी नहीं उठे तब शहर के कनाडिय़ा रोड पर रिवाज और प्रेमबंधन नाम के दो गार्डन ध्वस्त कर दिए गए । इसके साथ ही इन गार्डन के मालिकों के परिवार के दो-तीन मकानों पर भी बुलडोजर चलेगा। यह निर्माण अवैध तरीके से किए गए हैं। यह गार्डन युनूस पटेल और उसके परिवार के बताए जा रहे हैं। प्रशासन, नगर निगम और पुलिस की इस संयुक्त कार्रवाई के लिए गुरुवार रात में ही तैयारी कर ली गई थी। अधिकारियों के मुताबिक, यह कार्रवाई शुक्रवार सुबह करीब 6 बजे शुरू की गई। कनाडिय़ा रोड पर 750 मीटर लंबाई में दोनों तरफ 150 अवैध निर्माण तोड़े गए।
प्रेमबंधन गार्डन को तोडऩे की कार्रवाई सुबह छह बजे से शुरू की गई। इसके साथ ही रिवाज गार्डन को भी तोड़ा जा रहा है। कार्रवाईस्थल पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया। कनाडिय़ा रोड पर वाहनों की आवाजाही रोककर कार्रवाई की गई। अब तक कोई भी पक्ष विरोध करने नहीं पहुंचा। तोडफ़ोड़ की कार्रवाई शांतिपूर्ण ढंग से जारी है। रिवाज गार्डन का आफिस भी तोड़ा गया। प्रेमबंधन गार्डन के बाहर लगने वाली चाट-चौपाटी की दुकानें और ठेले भी हटाए गए। प्रेमबंधन गार्डन के सामने सड़क की दूसरी ओर अवैध रूप से बनाई गई 10 से ज्यादा दुकानें भी तोड़ी जा रही हैं। प्रेमबंधन गार्डन में 470 वर्गमीटर (लगभग पांच हजार वर्गफीट) अवैध निर्माण और रिवाज गार्डन लगभग चार हजार वर्गफीट अवैध निर्माण किया गया। अपर आयुक्त संदीप सोनी ने बताया कि रिवाज गार्डन पूरी तरह अवैध है और प्रेमबंधन गार्डन को 1998 में जालसाजी से पंचायत से ली गई अनुमति के आधार पर बनाया गया है। भूमाफियाओं ने जो बिल्डिंग परमिशन बताई है, उसमें सरपंच के हस्ताक्षर हैं जबकि सचिव के हस्ताक्षर भी होने चाहिए। माफियाओं और तत्कालीन सरपंच के खिलाफ एफआइआर कराई जाएगी। कार्रवाई के लिए प्रशासन, पुलिस और नगर निगम का बड़ा अमला लगाया गया। इसमें पुलिस के 80 सिपाही, चार थाना प्रभारी, दो एएसपी, नगर निगम के अपर आयुक्त और 100 से अधिक कर्मचारियों का दस्ता, अपर कलेक्टर, एसडीएम और तहसीलदारों की टीम है। कार्रवाई के दौरान ड्रोन कैमरों का इंतजाम किया गया है। यदि कार्रवाई के दौरान रहवासियों ने उपद्रव या विरोध किया तो उनको जेल पहुंचाने के लिए जेल वाहन भी तैयार रखा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: