Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890
News That Matters

करोड़ों रुपए की राशि से उद्योगपुरियों की दशा सुधरेगी

उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस लेकर बताया, मुख्यमंत्री भी आएंगे
माटी की महिमा न्यूज /उज्जैन

आने वाले समय में उज्जैन की दो उद्योगपुरियों की दशा करोड़ों रुपए की स्वीकृत राशि से सुधरेगी। इसके लिए मुख्यमंत्री को भूमिपूजन में बुलाया है। साथ ही कर्नाटक के राज्यपाल कार्यक्रम में मौजूद रहेंगे।
उक्त बातें पत्रकारों से चर्चा के दौरान प्रदेश सरकार के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव ने कही। आपने बताया कि देवास रोड स्थित नागझिरी उद्योगपुरी के लिए 8.07 करोड़ की राशि स्वीकृत शासन ने कर दी है। वहीं मक्सी रोड उद्योगपुरी के लिए भी राशि का आवंटन हो चुका है। इस राशि के आ जाने से औद्योगिक क्षेत्र की 5 किलोमीटर लंबी सड़क, नाली एवं पुलिया का निर्माण होगा। श्री यादव ने बताया कि इसके अलावा उपक्षेत्रीय विज्ञान केन्द्र की स्थापना भी तारा मंडल में की जा रही है जो कि साइंस सिटी के रूप में विकसित होगा। वहीं कई अन्य निर्माण कार्य की शुरुआत भी होगी। इसके लिए 30 सितम्बर को मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान के साथ कर्नाटक के राज्यपाल थावरचंद गेहलोत इन भूमिपूजन कार्यक्रमों में शामिल होंगे।
पत्रकार वार्ता में मौजूद विधायक पारस जैन ने बताया कि उज्जैन के मिल मजदूरों को दीपावली के पूर्व उनकी राशि का वितरण कर दिया जाएगा। अभी माननीय न्यायालय के आदेश से 10 करोड़ रुपए की राशि परिसमापक के खाते में आ चुकी है। शेष राशि दीपावली के पूर्व आ जाएगी। मजदूरों का कुल 36 करोड़ रुपया मूल बकाया था जो ब्याज के साथ 100 करोड़ रुपये हो गया है। आगर रोड उद्योगपुरी की दुर्दशा पर विधायक श्री जैन ने कहा कि यह औद्योगिक जमीन समिति के हवाले है। इसलिए समिति से कहा गया है कि आधी राशि वह मिला दे जिससे जनभागीदारी में उद्योगपुरी में रोड, नाली और सड़क का निर्माण हो सके। पत्रकार वार्ता में मौजूद भाजपा नगर अध्यक्ष विवेक जोशी ने बताया कि तारा मंडल में 5 एकड़ जमीन में विज्ञान केन्द्र की स्थापना की जाएगी जिसमें आईटी हब सहित कई केन्द्र काम करेंगे। प्रदेश में अभी तक साइंस सिटी नहीं है। इसका लाभ उज्जैन को मिलेगा। डॉ. यादव ने बताया कि विनोद मिल, विमल मिल की जमीन की फिर से नीलामी की जा रही है। आपने बताया कि अधिकारियो के भरोसे इस जमीन की नीलामी में नुकसान हो रहा था। अधिक से अधिक पैसा राज्य सरकार को मिले इसलिए केबिनेट ने पुरानी नीलामी को निरस्त कर दिया था। अब इसमें सरकार और सरकार के अधिकारी रुचि लेकर अधिक से अधिक बोली लगवाएंगे। पत्रकार वार्ता में भाजपा जिलाध्यक्ष बहादुरसिंह बोरमुण्डला भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: