Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890

भारत बायोटेक का इंतजार होगा खत्म
जिनेवा।
भारत बायोटेक की कोवैक्सीन को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन की मंजूरी का इंतजार अब खत्म होने जा रहा है। कोवैक्सिन के लिए फाइनल अप्रूवल अक्टूबर तक पूरा होने का अनुमान है। अक्टूबर में इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए डब्ल्यूएचओ की मंजूरी के सिलसिले में स्ट्रटेजिक एडवाइजरी ग्रुप आफ एक्सपर्ट्स की बैठक होने वाली है। पांच अक्टूबर को होने जा रही इस बैठक को लेकर उम्मीद जताई जा रही है कि इसमें भारत बायोटेक की कोवैक्सीन को डब्ल्यूएचओ की तरफ से हरी झंडी दी जा सकती है।
भारत बायोटेक ने अपने टीके के लिए 19 अप्रैल को ईओआई (रुचि की अभिव्यक्ति) जमा की थी। डब्ल्यूएचओ की बेवसाइट पर कोविड-19 टीकों के मूल्यांकन की स्थिति को लेकर दी गई जानकारी में कहा गया है कि भारत बायोटेक की कोवैक्सीन पर निर्णय 21 अक्टूबर को आना है। डब्ल्यूएचओ के अनुसार, आपातकालीन उपयोग प्रक्रिया के तहत प्रीक्वालिफिकेशन या लिस्टिंग के लिए डब्ल्यूएचओ दी गईं प्रस्तुतियां गोपनीय हैं। अगर मूल्यांकन के लिए सबमिट किया गया कोई उत्पाद लिस्टिंग के मानदंडों को पूरा करता हुआ पाया जाता है, तो डब्ल्यूएचओ परिणामों को व्यापक रूप से प्रकाशित करेगा। डब्ल्यूएचओ ने कहा कि छह जुलाई को भारत बायोटेक की तरफ से दिए गए डाटा के आधार पर संगठन समीक्षा कर रहा है। एजेंसी के अनुसार, आपातकालीन उपयोग सूचीकरण प्रक्रिया की अवधि वैक्सीन निर्माता द्वारा प्रस्तुत किए गए डाटा की गुणवत्ता और डब्ल्यूएचओ के मानदंडों को पूरा करने वाले डाटा पर निर्भर करता है। भारत बायोटेक की कोवैक्सिन और एस्ट्राजेनेका एवं आक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की कोविशील्ड भारत में व्यापक रूप से इस्तेमाल किए जाने वाले दो टीके हैं।
भारत बायोटेक ने हाल ही में कहा था कि कंपनी ने इयूएल के लिए कोवैक्सिन से संबंधित सभी डाटा डब्ल्यूएचओ को सौंप दिया है और वैश्विक स्वास्थ्य निगरानी संस्था से इस पर निर्णय की प्रतीक्षा कर रहा है। कंपनी ने कहा कि कोवैक्सीन के आपातकाल इस्तेमाल के लिए सभी डाटा जुलाई में डब्ल्यूएचओ को उपलब्ध कराया गया था।
हमने ङ्ख॥ह्र द्वारा मांगे गए हर स्पष्टीकरण का जवाब दिया है और संगठन के निर्णय का इंतजार कर रहे हैं। भारत बायोटेक ने मंगलवार को कहा था कि हम जल्द से जल्द ईयूएल प्राप्त करने के लिए डब्ल्यूएचओ के साथ काम कर रहे हैं।
देश में फिर से बढ़े कोरोना संक्रमित
24 घंटे में मिले 23 529, अकेले केरल में 155 कोरोना मरीजों की हुई मौत
नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण के मामलों में कई दिनों की गिरावट के बाद एक बार फिर से उछाल देखा गया है। देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के नए मामले 18 हजार से बढक़र 23 हजार 529 पहुंच गए हैं और 311 लोगों की मौत हो गई। इसी दौरान देश में 28 हजार 718 लोग ठीक भी हुए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में बीते दिन कोरोना वैक्सीन की 65 लाख 34 हजार 306 डोज़ दी गईं है, जिसके बाद वैक्सीन अबतक की डोज का आंकड़ा 88 करोड़ 34 लाख 70 हजार 578 हो गया है।
केरल में कोरोना के नए संक्रमितों का बड़ी संख्या में मिलना अभी जारी है। हालांकि, पहले के मुकाबले इन आंकड़ों में कमी आई है। राज्य में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 12 हजार 161 नए मामले सामने आए है और 155 मरीजों को अपनी जान गंवानी पड़ी है। इसी दौरान राज्य में 17 हजार 862 मरीज डिस्चार्ज भी हुए हैं। जिसके बाद सक्रिय मामलों की संख्या घटकर एक लाख 43 हजार 500 पहुंच गई है। लेकिन राज्य में अबतक 24 हजार 965 संक्रमितों ने अपनी जान गंवा दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *