Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890

माटी की महिमा न्यूज /उज्जैन
शहर के कार बाजारों में खड़ी कारों को पुलिस ने जब्त किया था। जांच के बाद दो कारों के चैसिस नंबर में गड़बड़ी पाई गई जिसके चलते गैरेज संचालक पर धोखाधड़ी का केस दर्ज किया गया है। कार जब्त कर ली गई हैं।
पुलिस विभाग को पिछले दिनों जानकारी मिली थी कि शहर के कार बाजार और ऑटोडील पर दूसरे राज्यों की कारें खड़ी हुई हैं जिनकी खरीद फरोख्त जमकर हो रही है। कारों को बिना दस्तावेज के बेचा जा रहा है। कुछ फायनेंस की गड़बडिय़ों के चलते यहां लाई गई हैं जिसमें चोरी की कार भी शामिल हो सकती है। एएसपी डॉ. रवीन्द्र वर्मा के निर्देशन में एक टीम का गठन किया गया और चार थाना क्षेत्रों में लगने वाले कार बाजार और ऑटो डील से गुजरात, महाराष्ट्र, उड़ीसा, कर्नाटक सहित प्रदेश के अन्य जिलों से आई कारों के दस्तावेजों की जांच शुरू कर दी गई। सप्ताहभर की जांच के बाद नीलगंगा थाना पुलिस ने कार क्रमांक एमपी-09-एचडी-5906 और एमपी-43-सी-1803 के चैसिस नंबर में गड़बड़ी पाई। दोनों कार सांवराखेड़ी स्थित वाकणकर ब्रिज के आगे फजल ऑटो गैरेज से जब्त की गई। गैरेज संचालक फजलुद्दीन सप्ताहभर की जांच में दोनों कारों के दस्तावेज उपलब्ध नहीं करा पाया। जिसके चलते कार जब्त करते हुए पुलिस ने गैरेज संचालक पर धोखाधड़ी की धारा 420 में प्रकरण दर्ज पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया है। गौरतलब है कि पुलिस ने अपनी जांच के दौरान नीलगंगा थाना क्षेत्र में 110 कारों के दस्तावेज और चाबियां जब्त की थी। अधिकांश कारों के दस्तावेज डीलरों द्वारा उपलब्ध कराए गए हैं। चिमनगंज थाना पुलिस ने 168 कारों की जांच की जिसमें अब भी कुछ के दस्तावेज नहीं मिल पाए हैं। माधवनगर पुलिस ने 76 और नानाखेड़ा पुलिस ने 10 कारों की जांच की है। एएसपी वर्मा के अनुसार जांच का क्रम अभी भी जारी है। कुछ के दस्तावेज नहीं मिल पाए हैं। पुलिस द्वारा गुजरात, महाराष्ट्र और अन्य राज्यों की पुलिस के साथ संबंधित वाहनों की जानकारी आरटीओ के माध्यम से जुटाई जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *