Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890
News That Matters

कोरोना त्रासदी से निपटने में दुनिया ने देखा भारतीयों का साहस- पीएम मोदी

भोपाल। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि कोविड संक्रमण के रूप में आयी सौ साल की सबसे बड़ी त्रासदी का सामना भारतीयों ने जिस बहादुरी से किया उसे दुनिया ने बहुत बारीकी से देखा है। कोरोना संक्रमण आरंभ होने के समय एक टेस्टिंग लैब थी, जिसे बढ़ाकर 3 हजार लैब का नेटवर्क बनाना, देश और दुनिया को मेड इन इंडिया कोरोना वैक्सीन उपलब्ध कराना, व्यापक स्तर पर टीकाकरण महाअभियान का संचालन और दूर-दराज के क्षेत्रों तक वेंटीलेटर की उपलब्धता सुनिश्चित करना हमारी एकजुटता और सेवा-भाव का प्रतीक है। प्रधानमंत्री मोदी ने एम्स ऋषिकेश से 35 राज्यों तथा केन्द्र शासित प्रदेशों में स्थापित 35 पीएसए ऑक्सीजन प्लांट्स देश को वर्चुअली लोकार्पित किए। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने भोपाल स्थित जे.पी. अस्पताल परिसर में प्रधानमंत्री केयर फंड से निर्मित दो ऑक्सीजन प्लांट का भी वर्चुअल लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जे.पी. अस्पताल परिसर में स्थापित दोनों ऑक्सीजन प्लांट का बटन दबाकर शुभारंभ किया।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कोरोना संक्रमण से निपटने में देश की अधिक जनसंख्या और भौगोलिक विविधता बड़ी चुनौती थी। इस चुनौती का भारत की जनता ने मिलकर सामना किया और क्षमताएँ विकसित की। देश में कोरोना संक्रमण से पहले 900 मीट्रिक टन लिक्विड ऑक्सीजन का उत्पादन होता था, जिसे माँग बढऩे पर दस गुना बढ़ाने में हम सफल रहे। यह विश्व के लिए अकल्पनीय है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि ऑक्सीजन का परिवहन भी चुनौतीपूर्ण था। ऑक्सीजन का उत्पादन पूर्वी भारत में होता है, जबकि कोरोना संक्रमण के काल में उत्तर भारत और देश के पश्चिमी भागों में ऑक्सीजन की माँग तुलनात्मक रूप से अधिक थी। इस स्थिति में ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेन चलाकर और वायुसेना के विमानों से खाली टैंकर ऑक्सीजन के उत्पादन केन्द्रों तक पहुँचाकर जल्द से जल्द ऑक्सीजन की आपूर्ति सभी आवश्यक स्थानों पर सुनिश्चित की गई। हम भविष्य में कोरोना से लड़ाई के लिए ऑक्सीजन नेटवर्क को तैयार करने और उसे सशक्त बनाने के लिए निरंतर कार्यरत हैं। देश में 1150 ऑक्सीजन प्लांट आरंभ हो चुके हैं। देश का हर जिला पी.एम. केयर से बने ऑक्सीजन प्लांट्स से लैस हो चुका है। देश को 4 हजार नए ऑक्सीजन प्लांट मिलने जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: