Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890
News That Matters

43 दिन बाद पकड़ाए फैक्ट्री में लूट करने वाले मामा-भांजे

3 गड्ढे खोदकर गाढ़ा था लूट का माल, दो से पुलिस ने किया बरामद
माटी की महिमा न्यूज /उज्जैन

उद्योगपुरी नागझिरी की फैक्ट्री में लूट की वारदात को मामा भांजे ने मिलकर अंजाम दिया था। लूटी गई राशि शिप्रा नदी किनारे तीन गड्ढे खोदकर गाड़ी गई थी। दो गड्ढों से माल बरामद हुआ है कुछ राशि मकान निर्माण में खर्च होना बताया गया है। शेष राशि की बरामदगी को लेकर दोनों आरोपियों को रिमांड पर लिया गया है।
43 दिन पहले 10 सितंबर को उद्योगपुरी नागझिरी में मोहित कपास खली फैक्ट्री में हुई लूट की वारदात में शामिल मामा भांजे सजनसिंह पिता भगवान सिंह कीर 50 वर्ष और भगवान सिंह पिता बाबूलाल 32 वर्ष को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। मामा सजन ग्राम मरेडी काकड़ जिला देवास का रहने वाला है। भांजा भगवान ग्राम कुंवारिया थाना नागझिरी में रहता है। दोनों ने मिलकर योजनाबद्ध तरीके से फैक्ट्री में धावा बोलकर लकवा ग्रस्त मालिक चंद्रप्रकाश राजानी और उसकी देखभाल करने वाले भंवरलाल की मौजूदगी में लूट को अंजाम दिया था। लकवा ग्रस्त होने पर मालिक बिस्तर से नहीं उठ पाया था। देखभाल करने वाले की आंखों में मिर्ची झोंक कर मारपीट की गई थी। पुलिस हिरासत में आने के बाद मामा भांजे ने बताया कि लूट की राशि ग्राम कुंवारिया के समीप शिप्रा नदी किनारे तीन गड्ढे खोदकर गाड़ी गई है। पुलिस ने नदी किनारे पहुंचकर दो गड्ढे से सोने की पांच चूडिय़ां और 41 हजार रुपए बरामद किए हैं। चूडिय़ों की कीमत 3 लाख 80 हजार रुपए सामने आई है। दोनों ने मिलकर 6 लाख रुपए नगद और आभूषण लूटे थे। पूछताछ में मामा सर्जन ने बताया कि 2 लाख मकान निर्माण में खर्च किए हैं और हजारों रुपए शराब मौज मस्ती में खत्म कर दिए हैं। तीसरे गड्ढे में गाड़ी गई राशि पुलिस को बरामद नहीं हो पाई है जिसकी बरामदगी के लिए दोनों को 3 दिन की रिमांड पर लिया गया है। शुक्रवार को मामले का खुलासा एसपी सत्येंद्र कुमार शुक्ला के निर्देशन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमरेंद्र सिंह और सीएसपी रविंद्र वर्मा द्वारा किया गया।
बंटवारे के विवाद में खुला था मामला
वारदात के 1 माह बाद लूट की राशि का बंटवारा करने की बात पर मामा भांजे में विवाद हो गया था। मुखबिर ने पुलिस को सूचना दी थी। पुलिस ने दोनों को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो बंटवारे की राशि उद्योगपुरी फैक्ट्री में हुई लूट का माल होना सामने आई। पुलिस के अनुसार मामा सजन देवास सिविल लाइन थाना क्षेत्र का हिस्ट्रीशीटर बदमाश है। उसके खिलाफ देवास और इंदौर में लूट, चोरी, मारपीट के साथ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: