Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890
News That Matters

नगर निगम सहायक उपयंत्री नरेश जैन एवं प्रभारी उपयंत्री संजय खुजनेरी की सेवा समाप्त

उज्जैन: नरेश जैन, सहायक उपयंत्री (भवन), शिल्पज्ञ शाखा, संजय खुजनेरी प्रभारी उपयंत्री (मूल पद श्रमिक) शिल्पज्ञ शाखा नगर निगम उज्जैन के संबंध में विभिन्न समाचार पत्रों में कदाचरण, अनियमितता आदि से संबंधित समाचार प्रकाशित हुआ था जिसे गंभिरता से लेते हुए आयुक्त क्षितिज सिंघल द्वारा प्रकरण में प्रारभिक जांच किये जाने हेतु समिति गठित की गई थी।
समिति द्वारा प्रस्तुत जांच रिपोर्ट एवं तथा कलेक्टर जिला उज्जैन द्वारा गठित जांच समिति द्वारा प्रकरण के सम्पूर्ण परीक्षण उपरांत कलेक्टर को प्रस्तुत जांच प्रतिवेदन अनुसार नरेश जैन द्वारा वार्ड क्रं. 25 में आर.सी.सी. नाली निर्माण में गंभीर अनियमितता/त्रुटिया की जाने तथा उपरोक्त  निर्माण कार्य की नाप पुस्तिका प्रमाणित न होकर प्रकरण में बिना टेस्ट रिपोर्ट के बिल प्रस्तुत किये जाने संबधी तकनीकी त्रुटि, निर्माण कार्य बिना सुपरविजन के तथा स्वीकृत एस्टीमेट/स्फेसीफिकेशन के आधार पर न होकर अनियमित तरीके से किये जाने एवं उक्त नाली निर्माण संबंधी कार्य के मूल्यांकन में कार्य काफी कमी पायी गई इसी के साथ ही नरेश जैन एवं संजय खुजनेरी द्वारा की गई अनाधिकृत अनुपस्थिति भी अनुशासनहिनता की श्रेणी पाई गई है।  
  उपरोक्त दोनो कर्मचारियों को उक्त कृत्य म.प्र. नगर पालिक निगम (अधिकारियों तथा की शर्ते) नियम 2000 नियम 13 (सेवा की अन्य शर्ते) के उपनियम (2) अतर्गत म.प्र सिविल सेवा आचरण नियम 2, 3 तथा    7 के तहत शासकीय कर्मचारियों की सेवा आचरण नियमों के विपरीत आचरण होने से नरेश जैन, सहायक उपयंत्री (भवन), शिल्पज्ञ शाखा को मप्र सिविल सेवा (वर्गीकरण नियंत्रण तथा अपील) नियम 1966 के नियम  9 (1) (क) के तहत्  आयुक्त द्वारा निलबित किया जाकर निगम मुख्यालय शिल्पज्ञ शाखा में अटैच किया गया था।
थाना चिंतामण, उज्जैन में नरेश जैन एंव संजय खुजनेरी के विरूद्ध अपराध क्र. 37/2020 पंजीबद्ध होकर विवेचनाधीन होने से संबंधित का कृत्य कर्मचारी सिविल सेवा आचरण नियमों के विपरीत होना स्पष्ट परिलक्षित होता है तथा जैन की म.प्र. शासन, सामान्य प्रशासन विभाग के परिपत्र क्रमांक सी-6-3/2000/3/एक, दिनांक 2.2.2000 अनुसार निरंतर अनाधिकृत अनुपस्थिति नियम 27 पेंशन नियम, 1976 सहपठित मूलभूत नियम 17-ए के अधीन सभी उद्देश्यों के लिये सेवा में व्यवधान होने एवं विभागीय जांच कार्यवाही में पूर्णतः दोषी पाए जाने से उक्त दोनो कर्मचारी के विरूद्ध आरोप सिद्ध होने की स्थिति में आयुक्त  श्री सिंघल द्वारा नगर पालिक निगम अधिनियम 1956 की धारा 58 (1) के चरण (एक) एवं (दो) अंतर्गत मध्यप्रदेश शासन, स्थानीय शासन विभाग, भोपाल के आदेश क्रमांक 3472/18-1/88, भोपाल दिनांक     26.10.88 के तहत् नियुक्तिकर्ता प्राधिकारी होने से मप्र. सिविल सेवा (वर्गीकरण, नियंत्रण तथा अपील) नियम 1966 के नियम 10 (आठ) के तहत् नरेश जैन, सहायक उपयंत्री (भवन), शिल्पज्ञ शाखा (निलंबित), एवं संजय खुजनेरी प्रभारी उपयंत्री (मूल पद श्रमिक) शिल्पज्ञ शाखा (निलंबित) नगर पालिक निगम उज्जैन द्वारा की गई उक्त लापरवाही, अनुशासनहीनता, अनियमतता. कदाचरण एवं दण्डनीय अपराध के लिये उक्त दोनो कर्मचारियों को तत्काल प्रभाव से सेवा से पृथक करते हुए सेवाएं समाप्त की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: