Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890
News That Matters

रेलवे अस्पताल के शौचालयों को सपा के रंग में रंगा

भड़की पार्टी ने की तुरंत एक्शन की मांग
लखनऊ।
उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में रेलवे अस्पताल के शौचालयों की दीवारों को समाजवादी पार्टी के झंडे जैसा रंग दिया गया है। समाजवादी पार्टी की ओर से इस पर घोर आपत्ति जताई गई है और तुरंत इसे ठीक करने की अपील की गई है। गुरुवार को समाजवादी पार्टी ने ट्वीट कर इस बारे में आपत्ति जताई। ट्वीट में लिखा गया, दूषित सोच रखने वाले सत्ताधीशों द्वारा राजनीतिक द्वेष के चलते गोरखपुर रेलवे अस्पताल में शौचालय की दीवारों को सपा के रंग में रंगना लोकतंत्र को कलंकित करने वाली शर्मनाक घटना!
शौचालयों को लाल और हरे रंग की टाइलें लगाई गई हैं। जिसके बाद समाजवादी पार्टी की ओर से अब भाजपा पर हमला किया जा रहा है। हालांकि अभी इस मसले पर यूपी सरकार या फिर भारतीय जनता पार्टी की ओर से कोई रिएक्शन नहीं आया है। लेकिन राज्य में राज्यसभा चुनाव का राजनीतिक माहौल बना हुआ है, ऐसे में इस मसले पर भी तकरार बढ़ सकती है।
मायावती की सपा को दो टूक

बसपा के 7 विधायकों को तोडऩे की हरकत भारी पड़ेगी
बहुजन समाज पार्टी में बगावत पर पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने समाजवादी पार्टी पर निशाना साधा है. गुरुवार को मायावती ने कहा कि हमारे सात विधायकों को तोड़ा गया है। सपा की यह हरकत भारी पड़ेगी। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी ने लोकसभा चुनाव के दौरान सांप्रदायिक ताकतों से लडऩे के लिए सपा के साथ हाथ मिलाया था। बीएसएपी अध्यक्ष मायावती ने कहा कि समाजवादी पार्टी अपने परिवार की लड़ाई के कारण, बसपा के साथ गठबंधन का अधिक लाभ नहीं ले सके। लोकसभा चुनाव के बाद समाजवादी पार्टी ने बातचीत करना बंद कर दिया था। इस वजह से हमने भी समाजवादी पार्टी से दूरी बना ली। मायावती ने कहा कि भाजपा से मिले होने का आरोप बेबुनियाद है। मायावती ने कहा कि हम 1995 की घटना को भूला कर आगे बढ़े। चुनाव में सपा को लाभ नहीं मिला। चुनाव बाद हमने कई बार फोन किया, लेकिन सपा ने फोन नहीं उठाया। 1995 के केस को वापस लेना गलत फैसला था। अभी भी 2 जून 1995 की टीस बकरार है। मायावती ने कहा कि केस वापस लेने के लिए सतीश चंद्र मिश्रा पर दबाव बनाया गया था। मायावती ने कहा कि हमारी राम गोपाल यादव से बात हुई थी, उन्होंने सिर्फ एक सीट पर चुनाव लडऩे की बात कही थी। इस बातचीत के बाद हमने अपने प्रत्याशी रामजी गौतम को उतारा। मायावती ने आरोप लगाया कि झूठा हलफनामा दायर किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: