Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890
News That Matters

लुधियाना से राजकोट जा रही थी 65 लाख की अंग्रेजी शराब

पुलिस ने पकड़ा तो मिली ऑटो पार्ट्स की बिल्टी, गिरोह से जुड़े लोगों की तलाश
माटी की महिमा न्यूज /उज्जैन

आगर रोड पर बीती शाम अवैध शराब का परिवहन होने की सूचना पर पुलिस ने गुजरात पासिंग आयशर को रोका तो उसमें भरी 65 लाख की अंग्रेजी शराब होना सामने आई। शराब का परिवहन ऑटो पार्ट्स की बिल्टी पर किया जा रहा था जो लुधियाना से राजकोट ले जाई जा रही थी।
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमरेन्द्र सिंह ने बताया कि चिमनगंज थाना पुलिस ने सूचना मिलने के बाद आगर रोड स्थित ग्राम सुरासा से गुजरात पासिंग आयशर क्रमांक जीजे-31 टी-3878 को रोकने का प्रयास किया तो उसमें सवार चालक आयशर रोकने के बाद मौके से भाग निकला। पुलिस ने घेराबंदी में क्लीनर को हिरासत में लिया और आयशर को थाने लाया गया। जिसमें विदेशी शराब भरी हुई थी। हिरासत में लिए गए क्लीनर करण निवासी जैसलमेर राजस्थान से पूछताछ की गई तो उसने ऑटो पार्ट्स की दो बिल्टी होना बताई। फरार हुए चालक का नाम महेश बताया। ऑटो पार्ट्स की बिल्टी सामने आने के बाद शराब अवैध होना सामने आते ही पुलिस ने मामले में आबकारी अधिनियम 34 (2), 46 की धारा के साथ अवैध परिवहन और धोखाधड़ी की धारा 420, 467, 468, 471 में प्रकरण दर्ज कर क्लीनर को गिरफ्तार कर लिया और चालक की तलाश शुरू की। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के अनुसार आयशर में शराब की 540 पेटी भरी हुई थी जिनकी कीमत 65 लाख के लगभग होना सामने आई है। वहीं 20 लाख कीमत की आयशर को जब्त किया गया है। अवैध शराब पकड़ाने में चिमनगंज थाना प्रभारी अजीत तिवारी, एसआई रवीन्द्र कटारे, यादवेन्द्र परिहार, आरक्षक आशुतोष, सैनिक चंदन और थाना टीम की भूमिका रही है।

लुधियाना से राजकोट तक गिरोह की तलाश में जाएगी पुलिस
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने बताया कि शराब का परिवहन लुधियाना से राजकोट के बीच होना सामने आया है। ऑटो पार्ट्स के नाम से मिली दो बिल्टी में से एक बिल्टी लुधियाना से इंदौर और दूसरी इंदौर से राजकोट की होना सामने आई है। जिसके चलते अवैध शराब मामले से जुड़े लोगों की तलाश में पुलिस की टीम लुधियाना और राजकोट भेजी जाएगी। अवैध शराब संगठित अपराध के रूप में किया जा रहा था। जिसमें शामिल लोगों को गिरफ्तार किया जाएगा।
अवैध शराब पकडऩे की कहानी कुछ और, हुआ था पथराव
सूत्रों द्वारा बताया जा रहा है कि अवैध शराब पकडऩे की कार्रवाई कुछ और ही रही है। गौवंश तस्करी के मामले में हिंदूवादी संगठन के लोगों द्वारा सूचना मिलने के बाद आगर रोड पर आयशर को रोकने का प्रयास किया था। लेकिन चालक ने रफ्तार तेज कर दी। सुरासा पहुंचने पर आयशर की लोगों ने घेराबंदी कर दी और रोकने के लिए पथराव किया। चालक भाग निकला था। क्लीनर को पकड़ लिया गया था। आयशर की तिरपाल हटाने पर उसमें गौवंश की जगह शराब भरी नजर आई थी। जिसे कुछ लोगों ने लूटने का प्रयास किया था लेकिन सही समय पर सूचना मिलते ही पुलिस पहुंच गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: