Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890
News That Matters

नगर परिषद की अनियमितताओं पर जनप्रतिनिधियों की चुप्पी से नगर की जनता हैरान

थांदला/मनीष अहिरवार

ऋशि मुनियों, तपस्वियों,स्वतंत्रता संग्राम सेनानियो,ओर ख्यातनाम पत्रकारों की भूमि रहे थांदला नगर के इतिहास में वर्तमान परिषद सबसे नाकाम साबित हो रही है नाकारा परिषद के खिलाफ नगर में लगातार आक्रोश बढ़ने लगा है। नगर के इतिहास की सबसे भ्रष्ट साबित हो रही परिषद यू तो भाजपाई परिषद है किंतु परिषद में  विपक्ष में काम कर रहे कांग्रेसी जन प्रतिनिधियों की मोन स्वीकृति से नगरवासियों को ठगे होने का अहसास हो रहा है। कुछ ऐसी चर्चाए अब नगर के मध्य आजाद चौक में आमजन पहुच कर करने लगे है। ज्ञातव्य है कि नगर परिषद के जिम्मेदार जनप्रतिनिधि कार्यालय के एक उस प्रभारी के हाथों की कठपुतली बने हुए है जो कथित अधिकारी पूर्व में पदस्थ स्थान पर सार्वजनिक जूतमपैजार का शिकार हो चुका है। नगरपरिषद के उक्त प्रभारी अधिकारी ने भाजपा-कांग्रेस का नगर में ऐसा गठबंधन कर शीशे में उतार दिया कि सभी जिम्मेदार *गुड़  खा कर गूंगे* बन चुके है। नगर परिषद द्वारा झाबुआ-पेटलावद मार्ग पर वार्ड क्रमांक एक मे महिला एवं बाल विकास विभाग के समीप बहने वाले सरकारी नाले पर अवैध दुकानों का निर्माण किया जा रहा है। इन दुकानों का नगर में लगातार विरोध हो रहा। कुछ इसी तरह थांदला-कुशलगढ़ मार्ग पर वार्ड क्रमांक 15 में बनी दुकानों का भी विरोध हो कर मामले में तहसीलदार ने नगरपरिषद को दोनो सर्वे नंबरों की भूमि मूल स्वरूप में करने के आदेश भी पारित कर दिए बावजूद उसके नगरपरिषद उक्त दोनों राजस्व सर्वे की भूमि पर दुकाने तान कर अंदरखाने नीलाम कर दी। लेकिन फर्जीनीलामी प्रक्रिया को लेकर नगर के लोगो में काफी आक्रोश है और यह आक्रोश जनप्रतिनिधियों के मोन पर ओर मुखर हो जाता है जनप्रतिनिधियों के इस प्रकार से नतमस्तक होने की उम्मीद नगर की जनता को कभी नही थी जनप्रतिनिधियों की मिलीभगत के खिलाफ नगर के पत्रकारों ने नगर हित में नीलाम की गई दुकानों की नीलामी प्रक्रिया की अधिकृत  जानकारी चाही किंतु वह भी नगर परिषद नही दे रही। इस संबंध में पत्रकारों के दल ने स्थानीय प्रशासन से ले कर कलेक्टर को भी शिकायत की। स्थानीय ओर जिला प्रशासन सत्ताधारी दल के दबाव में अपने ही तहसिलादर के आदेश की अवहेलना करने वाली नगरपरिषद पर न तो कारवाही कर रही और नही राजस्व भूमि के सरकारी नाले पर अतिक्रमण हटा पा रही जिसके चलते नगर के पत्रकारों को नगरीय पत्रकार समिति के बैनर तले आजाद चोक में अनिश्चित कालीन धरना शुरू किया गया। पत्रकारों के उक्त सरहानीय कदम का जनता जनार्दन का भरपूर सहयोग मिल रहा। धरने में आमजन से ले कर व्यापारी,समाजसेवी,ग्रामीण जनप्रतिनिधियों ओर अधिवक्ताओं का सहयोग मिल रहा है। धरने के छठवें दिन शुक्रवार को एडव्होकेट नीलेश जेन,एडव्होकेट श्रीमंत अरोड़ा,एडव्होकेट राकेश पाठक कमलेश तलेरा,जयंतीलाल पांचाल आदि ने उपस्थिति दर्ज करवा कर धरने का समर्थन किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: