Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890
News That Matters

जहरीली शराब कांड के आरोपित पुलिसकर्मी की भैरवगढ़ जेल में मौत

मामले में मजिस्ट्रियल जांच के आदेश, शराब कांड में एक दर्जन से ज्यादा आरोपित है
माटी की महिमा न्यूज/उज्जैन

अक्टूबर में जहरीली शराब से 14 लोगों की मौत के बाद उज्जैन शहर प्रदेशभर में चर्चित हो गया था। जहरीली शराब से हुई मौतों के मामले में आरोपित आरक्षक सुदेश खोड़े की आज गुरुवार तड़के केंद्रीय जेल भैरवगढ़ में मौत हो गई। खोड़े को हार्ट अटैक आया था। मामले की सूचना मिलते ही जेल सुप्रिडेंट अलका सोनकर मौके पर पहुंच गई थी। शव का आज सुबह पोस्टमार्टम कराया गया। मामले में मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए गए हैं।

जेल अधीक्षक अलका सोनकर ने बताया कि बीती रात खोड़े की तबीयत अचानक खराब होने की सूचना मिली थी इस पर ड्यूटी डॉक्टर को भेजा गया था और कैदी को जिला अस्पताल रैफर किया गया था। जहां उसकी मौत हो गई। अक्टूबर में जहरीली शराब कांड में 14 लोगों की मौत हो गई थी। मामले में महाकाल थाने में पदस्थ आरक्षक सुदेश खोड़े, खाराकुआं थाने में पदस्थ शेख अनवर व नवाज शरीफ को आरोपित बनाया गया था। तीनों के खिलाफ विभागीय जांच की गई थी। जांच में तीनों को दोषी पाया गया था। नवाज शरीफ व शेख अनवर को पूर्व में ही गिरफ्तार कर जेल भेजने के साथ ही बर्खास्त कर दिया गया था। आरक्षक सुदेश खोड़े लंबे समय तक फरार था। उस पर 10 हजार रुपये का इनाम भी घोषित था। 24 नवंबर को ही वह थाने में पेश हो गया था। इसके बाद 26 नवंबर को उसे जेल भेज दिया गया था। इस दौरान एसपी सत्येंद्र शुक्ला ने उसे बर्खास्त कर दिया था। गुरुवार को खोड़े की जेल में मौत हो गई। इस मामले में कुल 16 आरोपित थे। खोड़े की मौत के बाद 15 आरोपित अब भी जेल में हैं। चार्जशीट दाखिल होने के बाद भी कोर्ट ने अभी किसी भी आरोपित को जमानत नहीं दी है। इस बहुचर्चित शराब कांड मामले में तत्कालीन एसपी मनोज कुमार सिंह सहित एडिनशल एसपी रूपेश द्विवेदी, सीएसपी डॉ.रजनीश कश्यप को भी हटा दिया गया था। उल्लेखनीय है कि मामले में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने गृह सचिव राजेश राजौरा के नेतृत्व में तीन सदस्यीय एसआईटी गठित की थी। टीम में गृह एडीजी एसके झा और रतलाम डीआईजी सुशांत सक्सेना भी शामिल थे। जिन्होंने सभी बिंद़ओं पर जांच की थी।
कुछ महीने पहले चर्चित हत्याकांड के आरोपित की भी हुई थी मौत
केंद्रीय जेल भैरवगढ़ में 2 नवंबर को हिस्ट्रीशीटर बदमाश दुर्लभ कश्यप की हत्या के आरोपित सिराजुद्दीन की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। हालांकि जांच के बाद मामला खुदकुशी का निकला था। उस समय सिराजुद्दीन के परिजनों ने जेल के बाहर हंगामा खड़ा कर दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: