Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890
News That Matters

कोरोना वैक्सीन: 2 घंटे तक 3 स्थानों पर ड्राय रन

डमी प्रक्रिया में वैक्सीन लगवाने वालों को रखा आधे घंटे निगरानी में, कलेक्टर-एसपी पहुंचे नर्सिंग कॉलेज, दिए दिशा निर्देश
माटी की महिमा न्यूज /उज्जैन

कोरोना वैक्सीन का इंतजार अब समाप्त हो गया है। आज जिले में 2 घंटे तक वैक्सीन का ड्राई रन किया गया। तीन स्थानों पर हुए रन में वैक्सीन लगाए जाने की प्रक्रिया को फॉलो किया गया है। वैक्सीनेशन की मॉक ड्रिल में वैक्सीन लगवाने वाले व्यक्ति को आधे घंटे की निगरानी में भी रखा गया। संभावना है कि जनवरी माह के तीसरे सप्ताह से कोरोना बचाव की वैक्सीन के टीकाकरण की शुरुआत हो जाएगी।
भारत सरकार की कोविड-19 वैक्सीनेशन गाइडलाइन में आज से वैक्सीन लगाए जाने की प्रक्रिया को शुरू कर दिया गया है। पहले दिन ड्राई रन किया गया है जिसके लिए जिले के तीन स्थानों को चिन्हित किया गया था। पहला सुदामा नगर स्थित बीएससी नर्सिंग कॉलेज, दूसरा पुष्पा मिशन हॉस्पिटल और तीसरा तराना सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शामिल थे। तीनों स्थानों पर सुबह 9 बजे से 11 बजे तक वैक्सिन लगाए जाने की मॉक ड्रिल की गई। ड्राई रन की इस प्रक्रिया पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ महावीर खंडेलवाल के साथ जिला अस्पताल के टीकाकरण अधिकारी डॉक्टर केसी परमार सहित अन्य चिकित्सक नजर बनाए हुए थे। कोरोना से बचाव के लिए लोगों को व्यक्ति किस तरह से लगानी है इसके लिए तीनों स्थानों पर तीन-तीन कक्ष बनाए गए थे जहां डमी ट्रायल की प्रक्रिया को पूरा किया गया है। संभावना जताई जा रही है कि वैक्सीनेशन की प्रक्रिया को जनवरी माह के तीसरे सप्ताह के शुरू कर दिया जाएगा।


भेजे गए मैसेज, दी गई ट्रेनिंग
टीकाकरण अधिकारी डॉक्टर केसी परमार ने बताया कि वैक्सीनेशन ड्राई रन प्रक्रिया में 25-25 लोगों को शामिल किया गया जिनके मोबाइल पर मैसेज भेजे गए थे। वैक्सीनेशन के लिए शहर और ब्लॉक स्तर पर कर्मचारियों को ट्रेनिंग दी जा चुकी है। जिसमें रजिस्ट्रेशन के वेरिफिकेशन से लेकर वैक्सीन लगाए जाने की प्रक्रिया के बारे में जानकारी दी गई है। आज हुए ड्राई रन से पहले ही सभी तैयारियों को पूरा कर लिया गया था। सुबह पूरी प्रक्रिया को फॉलो किया गया है।


प्रक्रिया के लिए बनाए थे तीन कक्ष
कोरोना वैक्सीन लगाए जाने की प्रक्रिया में की गई मॉक ड्रिल के दौरान तीन कक्ष बनाए गए थे। पहले कक्ष में वैक्सीन लगवाने वालों को एंट्री दी गई थी जहां उनका रजिस्ट्रेशन किए जाने की प्रक्रिया को पूरा किया गया। उसके बाद दूसरे कक्ष में वैक्सीन लगाए जाने की डमी प्रक्रिया को पूरा किया गया। जिन लोगों को वैक्सीन लगाई गई थी उन्हें तीसरे कक्ष में आधे घंटे तक की निगरानी में रखने की रिहर्सल की गई है। तीनों स्थानों पर हुए ड्राई रन के दौरान 5-5 स्वास्थ्य कर्मियों की ड्यूटी लगाए जाने की प्रक्रिया को पूरा किया गया।
पहले चरण में फं्रट लाइन के15 हजार को लगेगी वैक्सीन
स्वास्थ्य विभाग की ओर से बताया जा रहा है कि कोरोना से बचाव की वैक्सीन के पहले चरण में स्वास्थ विभाग के करीब 15425 कर्मचारियों को वैक्सीन लगाई जाएगी। 1 माह के दौरान 15 हजार वैक्सीन मिलने की उम्मीद बनी हुई है। वैक्सीन भोपाल इंदौर जबलपुर और ग्वालियर भेजी जाएगी जहां से अन्य जिलों के लिए सप्लाय की प्रक्रिया को पूरा किया जाएगा। उज्जैन जिले को इंदौर से वैक्सीन मिलने की उम्मीद है। वैक्सीन को रखने के लिए कोल्ड बॉक्स का उपयोग किया जाएगा। व्यक्ति की लगातार निगरानी और मॉनिटरिंग भी की जाएगी। जिला स्तर पर कलेक्टर की अध्यक्षता में टास्क फ़ोर्स बनाया गया है।
कलेक्टर-एसपी पहुंचे नर्सिंग कॉलेज
कोरोना वैक्सीनेशन ड्राय रन प्रक्रिया की सबसे पहले शुरुआत सुदामानगर स्थित बीएससी नर्सिंग कॉलेज से हुई। जहां स्वास्थ्य अधिकारियों की मौजूदगी बनी हुई थी। इस दौरान कलेक्टर आशीष सिंह और एसपी सत्येन्द्र कुमार शुक्ला भी मौके पर पहुंचे थे, जिन्होंने ड्राय रन की प्रक्रिया की जानकारी ली और दिशा निर्देश जारी किए। कलेक्टर की अध्यक्षता में टास्क फोर्स बनाया गया है। जिसमें ब्लॉक लेवल पर भी समितियां गठित की गई हैं। वैक्सीनेशन की शुरुआत होने के बाद फ्रंट लाइन के कर्मचारियों को 5 दिन तक वैक्सीन लगाई जाएगी। जो कर्मचारी इस बीच किसी कारण से वैक्सीन लगवाने में छूट जाएंगे उनके लिए अलग से दिन निर्धारित किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: