Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890
News That Matters

दैनिक माटी की महिमा की खबर पर मुख्यमंत्री की नजर, प्रदेश के बाहर गुम हुए बच्चों की सुध लेने के लिए शिवराजसिंह चौहान ने दिए आदेश

खबर ने एक व्यवस्था बनाने को प्रेरित किया
आजाद अग्निहोत्री
माटी की महिमा न्यूज/सरदारपुर

भोपाल में महिला सुरक्षा को लेकर जन जागरूकता सम्मान का शुभारंभ करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पुलिस के वरिष्ठाधिकारियों से लगाकर अदने से जवान तक को संबोधित करते हुए प्रदेश के बाहर गुम हुए बच्चों की सुध लेने के लिए आदेशित किया है। मुख्यमंत्री का सारा संबोधन इसी बात पर केंद्रित रहा है। उल्लेखनीय है कि पिछले माह दैनिक माटी की महिमा अखबार में खबर प्रकाशित हुई थी कि राजोद की 14 वर्षीय बेटी गुजरात जाने-आने के दौरान गायब हो गई थी और राजोद पुलिस ने टका सा जवाब दे दिया था कि लड़की गुजरात में गायब हुई तो रिपोर्ट भी गुजरात में लिखी जाएगी। तब दैनिक माटी की महिमा अखबार में शिवराज की भांजी की सुध लेगा कौन शीर्षक से खबर लगाई थी, मुख्यमंत्री शिवराज का सारा संबोधन इसी खबर आसपास घुमता नजर आया है। प्रदेश के मु खिया शिवराज सिंह चौहान ने तल्ख लहजे में कहा कि टीआइयों, एसआईयों, एसओओ, हेडकांस्टेबलों, कांस्टेबलों, सीएसपी, एसपीओ व एसपी के ऊपर के अधिकारियों, ये गुम हुए सारे बच्चे, एक तो अब गुमें ना इसकी कोशिश करनी चाहिए, हम एक ओर अंतिम रूप दे रहे हैं कि अब कोई मजदूरी करने, काम करने के लिए भी कोई बेटी या बेटा बाहर जयगा तो पहले उसका रजिस्ट्रेशन किया जायगा, जिले के बाहर अगर जायगा तो एक व्यवस्था बना रहे कि ग्राम पंचायत में पता हो, यदि प्रदेश से बाहर जाना हो तो जिले में रजिस्ट्रेशन होगा कि बेटा कहां जाय, बेटी कहां जा रही है।

दैनिक माटी की महिमा अखबार में शिवराज की भांजी की सुध लेगा कौन शीर्षक से लगाई खबर

शिवराज ने आगे कहा कि, ले गये काम के बहाने ओर बेटी मिल नहीं रही है, ये नहीं चलने देंगे मध्यप्रदेश में। गृह मंत्रालय व बाकी मंत्रालय, गृह मंत्रालय लीड करेगा, बाकी सारे विभागों को क्वाइलेड कर हम यह व्यवस्था बनाएंगे कि ग्राम की ग्राम पंचायत में भी पता रहेगा ओर प्रदेश से बाहर जा रहे हो तो जिले में पता रहेगा, उनका नम्बर रहेगा, कहां गए, कौन लेगया ये जानकारी रहेगी, बेटी को यह पता रहेगा कि कौई मुसीबत आई तो कहां पता करना है, उनके पेरेंट्स का पता रहेगा, ताकि गड़बड़ अगर हो तो बेटी फोन कर खबर कर सके, ओर ऐसे लोगों को हम ठीक करने का काम कर सकें, ताकि बेटियां गायब ना हों। कहा जा सकता है दैनिक माटी की महिमा अखबार की खबर ने एक व्यवस्था बनाने को प्रेरित किया है कि मजदूरी के लिए कोई बाहर जाए तो ग्राम पंचायत को पता होना चाहिए कि गांव का रहवासी कहां गया है, कौन ले गया है? मुख्यमंत्री इस विचार को क्रियान्वित कर गुम हो जाने वाले गरीबों को राहत पहुंचाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: