Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN
News That Matters

मेडिकल खुलने से पहले चामुंडा माता चौराहा पर लगी भीड़

रेमडेसिवीर इंजेक्शन आए ७, लेने पहुंचे 50
पुलिस ने संभाली स्थिति, कई लोग दोपहर तक करते रहे इंतजार
माटी की महिमा न्यूज /उज्जैन

रेमडेसीविर इंजेक्शन खरीदने के लिए सैकड़ों लोग शहर में मेडिकल मेडिकल और दवा बाजार में भटक रहे हैं। आज सुबह चामुंडा माता चौराहा नवीन मेडिकल पर 7 इंजेक्शन पहुंचे थे लेकिन खरीदने वाले 50 से अधिक लोग पहुंच गए वही जिसेे जानकारी लगी उसनेे भी चामुंडा माता चौराहा का रुख कर लिया।
कोरोना पॉजिटिव मरीजों में बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए रेमडेसिवीर इंजेक्शन की आवश्यकता बड़ी तादाद में महसूस की जा रही है। पूरे प्रदेश में इंजेक्शन की कमी के चलते पॉजिटिव मरीजों के परिजन मेडिकल मेडिकल से लेकर दवा बाजार और एक शहर से दूसरे शहर सख्त भटक रहे हैं। शहर में इंजेक्शन के लिए जिला प्रशासन की ओर से चार मेडिकल चिन्हित किए गए हैं जिसमें शामिल चामुंडा माता चौराहा नवीन मेडिकल शामिल है। आज सुबह मेडिकल खुलने से पहले ही करीब दो दर्जन लोग इंजेक्शन मिलने की आस में कतार लगाकर खड़े हो गए थे। मेडिकल खुलने के बाद यहां मात्र साथ इंजेक्शन पहुंचे थे। जिसकी जानकारी अन्य मरीजों के परिजनों को लगी तो उनकी भीड़ भी चामुंडा माता चौराहे पर लगना शुरू हो गई कुछ ही देर में 50 से 60 लोग एकत्रित हो गए लेकिन 7 इंजेक्शन होने पर सभी को मिलना नामुमकिन था इस बात की जानकारी पुलिस को लगी तो वह हंगामे की स्थिति ना बने इसलिए मौके पर पहुंच गई। मेडिकल से उन लोगों को 7 इंजेक्शन दिए गए जिन्हें डॉक्टरों ने अस्पतालों के पर्चे पर लिख कर दिया था। पॉजिटिव मरीज के परिजनों से आधार कार्ड और सीटी स्कैन की रिपोर्ट को भी देखा गया। जिन्हें इंजेक्शन नहीं मिल पाया था वह इंतजार में दोपहर तक मेडिकल के बाहर ही खड़े रहे। बताया जा रहा है कि जिला प्रशासन ने 4 मेडिकल इंजेक्शन के लिए चयनित किए हैं वही अस्पतालों में भी इंजेक्शन पहुंचाने की व्यवस्था की है। लेकिन अधिकांश मरीजों के परिजन खुद ही इंजेक्शन का इंतजाम करने के लिए शहर में भटक रहे हैं। एक मरीज को चार से पांच इंजेक्शन लगना बताया जा रहा है।
अस्पतालों में पहुंचे 250 इंजेक्शन
बताया जा रहा है कि ड्रग इंस्पेक्टर ने 15 निजी अस्पतालों में भर्ती मरीजों के लिए ढाई सौ रेमडेसीविर इंजेक्शन की उपलब्ध कराई है। लगातार इंजेक्शन की उपलब्धता बनी रहे इसके प्रयास भी जिला प्रशासन द्वारा किए जा रहे हैं। चरक भवन में भर्ती मरीजों के लिए चामुंडा माता चौराहा का नवीन मेडिकल और माधव नगर अस्पताल में भर्ती मरीजों के लिए नाहटा मेडिकल पुलिस कंट्रोल रूम के सामने इंजेक्शन के लिए चिन्हित किया गया है। वैसे प्रशासन की प्राथमिकता अस्पतालों तक इंजेक्शन पहुंचाने की बनी हुई है बावजूद इसके मेडिकल ऊपर भी इंजेक्शन उपलब्ध रहे इसके प्रयास किए जा रहे हैं। विदित हो कि पिछले तीन-चार दिनों से इंजेक्शन के लिए मरीजों के परिजन इंदौर देवास तक के चक्कर लगा चुके हैं।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!
%d bloggers like this: