Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890

प्रात: 10 बजे के बाद अनावश्यक कोई भी व्यक्ति बाहर नहीं निकलेगा

माटी की महिमा न्यूज/उज्जैन। कोरोना संक्रमण की रफ्तार को देखते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विगत दिनों 19 अप्रेल तक लॉकडाउन लगाया गया था जिसमें कुछ दुकानों को खोलने की अनुमति दी गई थी। आज सोमवार को बाजार की व्यवस्था सुचारू रूप से संचालित ना हो पाई। आमजन बेवजह मार्केट में घुमते दिखाई दिए। जिसके बाद आज जिला कलेक्टर ने क्राईसिस मेनेजमेंट ग्रुप की मीटिंग लेकर उक्त आदेश में संशोधन किया है जिसमें निर्णय लिया गया है कि अब किराना, दुध, सब्जी और फल के हाथ ठेला व्यापारी सुबह 6 से 10 बजे तक ही अपना व्यापार व्यवसाय सोशल डिस्टेंसिग के पालन के साथ कर सकते है साथ ही यह निर्णय भी लिया गया है कि हाथ ठेला व्यवसायी एक जगह खडे होकर व्यवसाय नहीं कर सकते चलित रूप से ही व्यापार कर सकेगें।

 आज सोमवार को बृहस्पति भवन के सभाकक्ष में जिला क्राईसिस मैंनेजमेंट समिति की बैठक आयोजित की गई। बैठक में उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव, सांसद अनिल फिरोजिया, विधायक पारस जैन, विवेक जोशी, कलेक्टर आशीष सिंह, पुलिस अधीक्षक सत्येंन्द्र कुमार शुक्ल, एडीएम नरेन्द्र कुमार सूर्यवंशी, सीईओ जिला पंचायत अंकित अस्थाना, नगर निगम आयुक्त क्षितिज सिंघल, सीएमएचओ डॉ. महावीर खण्डेलवाल एवं अन्य अधिकारीगण मौजूद थे। बैठक में समिति द्वारा निम्नलिखित निर्णय लिये गये।
1.      मंगलवार से प्रात: 6 बजे से प्रात: 10 बजे तक ही खुलेंगी फुटकर और थोक किराना दुकाने।
2.      फल एवं संब्जी विक्रेता  चलायमान ठेले पर सब्जी तथा फालों का विक्रय प्रात: 6 बजे से प्रात: 10 बजे तक कर सकेंगे। ठेले वाले एक स्थान पर खड़े नही रहेंगे । 
3.      प्रात: 10 बजे के बाद शहर में कोरोना कर्फ्यू लगेगा। किसी भी व्यक्ति को अनावश्यक बाहर निकलने पर पाबंदी रहेगी।
4.      बैठक में निजी अस्पताल तथा माधवनगर अस्पताल में छोटे ऑक्सिजन प्लांट लगाये जाने पर विचार विमर्श किया गया।
5.       रेमडिसिविर इंजेक्‍शन के बारे में जनता में जागरूकता फैलाने के निर्देश दिये।
6.      शहर के अन्य निजी चिकित्सालयों के चिन्हांकित कर कोविड केयर सेंटर बनाये जाने पर चर्चा की गई।
7.       अस्पतालों में ऑक्सिजन बेड की संख्या और बढ़ाये जाने पर विचार विमर्श किया गया।  जानकारी दी गई कि चरक अस्पताल में अगले तीन दिन में 100 बैड और बढ़ाये जायेंगे और साथ ही माधवनगर अस्पताल में भी 30 बैड बढ़ाये जायेंगे। इसके अलावा आरडीगार्डी अस्पताल में भी 100 ऑक्सिजन बैड बढ़ाये जायेंगे।
8.     बैठक में कहा गया कि आमजन कोरोना के जरा से भी लक्षण होने पर बिना देर किये जाँच कराएं।
9.    रेमडिसिविर इंजेक्शन की आपूर्ति के बारे में कहा गया कि शीघ्र ही उज्जैन में 1 हजार इंजेक्शन उपलब्ध करवाये जायेंगे।
10.    कोरोना संक्रमण की रोकथाम हेतु आयुर्वेद, होम्योपैथी चिकित्सक के साथ-साथ रिटायर्ड चिकित्सकों की सेवाएं भी ली जाएं।
11.    सरकारी संस्थाओं जैसे रेलवे , युनिवर्सिटी, एमपीईबी, डीएसआई के चिकित्सकों की भी ड्यूटी लगाई जाऐ।
12    कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए होम्योपैथी दवाओं और काढ़े का भी वितरण प्रारंभ किया जाये।
13    बैठक में वैवाहिक कार्यक्रमों के संबंध में दो दिन के पश्चात निर्णय लिया जाएंगे ।
14.    जिले में संचालित आंगनवाड़ी केंद्रों को कोरोना संक्रमण रोकने के लिए बंद किये जाने तथा आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी टीकाकरण में लगाई जाने का सुझाव दिया।
15.    गुड़ी पड़वां पर रामघाट के आसपास के मंदिरों का रंग रोगन और सफाई करवाई जाए।
16.    उज्जैन जिले की तहसीलों में किराना और आवश्यक वस्तुओं की दुकानें प्रात: 11 बजे से शाम 5 बजे तक खुली रहेंगी।
17   डीआरएम रेलवे को पत्र के माध्यम से कोविड के लिए ऑक्सिजन के रेलवे कोच उपलब्ध कराने के लिए कहा जाएगा ।18    मंगलवार को कर्फ्यू में श्रमिकों और अत्यावश्यक सेवाओं में लगे कर्मचारियों को आवागमन की अनुमति रहेगी।
19    बैठक में शव वाहन की संख्या बढ़ाये जाने तथा कोविड से हुई मृत्यु के शवों का अंतिम संस्कार की व्यवस्था चक्रतीर्थ के अलावा अन्य श्मशानों में करने का सुझाव दिया गया।
20    मुस्लिम और बोहरा समाज में कोविड से मृत्यु होने पर शव को दफनाने के लिए अन्य कब्रिस्तान की व्यवस्था करने का सुझाव दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *