Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN
News That Matters

कोरोना के साथ बढ़ते तापमान का कहर, गर्म हवा के थपेड़ों से लू लगने का खतरा

उज्जैन। कोरोना की लहर के बीच अब बढ़ते तापमान का कहर भी नजर आने लगा है। गर्म हवा से लू का खतरा बढ़ता नजर आ रहा है। जिसके लक्षण भी कोरोना की ही तरह दिखाई दे रहा है। अप्रैल माह आधा बीतने को है और अधिकतम तापमान 40 डिग्री के करीब पहुंच चुका है। न्यूनतम तापमान भी 20 डिग्री को पार कर रहा है। लगातार बढ़ते तापमान के बीच 4 से 6 किलोमीटर की रफ्तार से गर्म हवा भी चल रही है। जहां कोरोना की लहर घातक नजर आ रही है वही तापमान बढऩे और गर्म हवा से लू का खतरा भी बढ़ता नजर आ रहा है। डॉक्टरों की माने तो बढ़ते तापमान में जाने से इस समय लोगों को बचने का प्रयास करना होगा। क्योंकि गर्मी बढऩे से लू लग सकती है। जिसके लक्षण कोरोना संक्रमण जैसे ही सामने आते हैं। लू लगने से बुखार आ सकता है और शरीर में दर्द बढ़ सकता है। तेज गर्मी में बाहर से घर लौटते समय तत्काल फ्रीज का पानी पीने से बचने का प्रयास करना होगा। वही एसी, कूलर की ठंडी हवा में रहने के बाद तत्काल ही तेज गर्मी में घर से बाहर निकलने से भी बचने की कोशिश करना होगी। गर्मी से बचने के लिए शीतल पेय का उपयोग भी वर्तमान समय में ना किया जाए तो बेहतर है।
अस्पतालों में नहीं है पलंग खाली
कोरोना संक्रमण के चलते शहर के अस्पतालों में पलंग खाली नहीं मिल रहे हैं। ऐसे में अगर बढ़ते तापमान के बीच लू का खतरा बढ़ता है तो और भी परेशानी हो सकती है। जिस तरह कोरोना की गाइड लाइन का पालन किए जाने की बात जिला प्रशासन द्वारा कही जा रही है उसी तरह लोगों को भी गर्मी से बचने के भी प्रयास करना होंगे। इस समय हालात ठीक नहीं है अगर हम जागरूक रहे और नियमों का पालन करते रहे तो इन हालातों से बचा जा सकता है। हमारी जागरूकता ही ऐसे कठिन समय से निपटने के लिए सबसे जरूरी है।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!
%d bloggers like this: