Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN
News That Matters

पिता में राक्षस नजर आ रहे थे, मार डाला, गिरफ्तार

आगरा। थाना एत्माद्दौला के बजरंग नगर में सेवानिवृत्त दरोगा की हत्या उनके बेटे ने ही सिर पर डंडे से ताबड़तोड़ प्रहार कर की थी। वारदात के छह घंटे बाद आरोपी बेटा खुद ही थाने पहुंच गया। उसने कहा कि मुझे गिरफ्तार कर लो। मैंने पिता की हत्या की है।
आरोपी ने कहा कि उनमें राक्षस नजर आ रहे थे। उन्हें मारने में पिता की जान चली गई। उसने हत्या के बाद मुंडन कराया, यमुना में नहाया भी। हाथ पेट्रोल डालकर जला लिए। पिता की हत्या के बाद उसे पश्चाताप हो रहा था। बजरंग नगर निवासी चोखेलाल (64) पुत्र द्वारिका प्रसाद मूलरूप से हाथरस के गांव एहन के रहने वाले थे। वह वर्ष 2017 में फिरोजाबाद से सेवानिवृत्त हुए थे। उनके तीन बेटे हैं। इनमें अजय और संजय की शादी हो चुकी है। पिता ने दोनों को अपने पड़ोस में घर दिला रखे थे। वह अपने परिवार के साथ रह रहे हैं। संजय ऑटो चलाता था, जबकि अजय प्राइवेट नौकरी करके परिवार पाल रहा है। हत्यारोपी देवेश की शादी नही हुई थी। वह अक्सर चित्रकूट में रहता था। कोई काम नहीं करता था। चोखेलाल बेटे देवेश और पत्नी के साथ रहते थे। देवेश 15 दिन पहले ही पिता के पास आया था। थाना एत्माद्दौला के प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि तकरीबन 4.40 बजे पुलिस को चोखेलाल की हत्या की सूचना मिली। इस पर वो मौके पर पहुंच गए। चोखेलाल का लहूलुहान शव कमरे में फर्श पर पड़ा हुआ था। बड़े बेटे अजय ने पुलिस को बताया कि सुबह छोटे भाई देवेश ने उसके घर का दरवाजा खटखटाया था। उसने कहा कि वह थाने जा रहा है। इसके बाद चला गया। वह कुछ समझ नहीं पाया। इस पर वह पिता के घर पहुंचा। पिता चोखेलाल का खून से लथपथ शव कमरे में फर्श पर पड़ा था। मां दूसरे कमरे में बंद थीं। चोखेलाल की हत्या सिर में डंडे से कई प्रहार करके की गई थी। देवेश फरार था। इसलिए उस पर ही हत्या का शक था। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजने के बाद अजय की तहरीर पर देवेश के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। उधर, सुबह दस बजे देवेश खुद ही थाने पहुंच गया। उसके हाथ में खून से सना डंडा भी लगा था। थाने पहुंचकर उसने पिता की हत्या की पूरी घटना बताई। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद जेल भेज दिया गया।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!
%d bloggers like this: