Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN
News That Matters

दर्दनाक : 10 दिन में पति-सास-ससुर को निगल गया कोरोना, 16 लाख चुकाए, तब मिले तीनों के शव

माटी की महिमा न्यूज/इंदौर
मध्यप्रदेश के इंदौर के एक परिवार को लेकर ऐसी ही हदयविदारक खबर सामने आई। पांच लोगों के इस परिवार में से तीन की कोरोना के चलते मौत हो गई। बाकी दो सदस्यों में से भी एक कोरोना संक्रमित है। इंदौर में पादरी परिवार ने दस दिन से भी कम समय में तीसरे सदस्य का अंतिम संस्कार किया है। माता-पिता, बेटा-बहू और एक पोता समेत इस पादरी परिवार में पांच सदस्य हुआ करते थे। परिवार के चार सदस्यों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई, इनमें से तीन की मौत हो चुकी है। दस दिनों के भीतर परिवार के मुखिया 86 वर्षीय पादरी ए जे सैमुअल, 83 वर्षीय उनकी पत्नी कुंजम्मा सैमुअल और बेटा जॉनसन सैमुअल की कोरोना संक्रमण के चलते मौत हो गई। जॉनसन की पत्नी शोबी जॉनसन आइसोलेटेड और उनका बेटा फिलोमन जॉनसन कोरोना संक्रमित है, जिसका इलाज चल रहा है।
तबीयत बिगडऩे के बाद जॉनसन को अस्पताल में भर्ती कराया। उसके बाद जॉनसन के पिता और मां को भर्ती कराया गया। तीनों के इलाज पर अच्छा खासा पैसा खर्च हुआ, लेकिन किसी को भी बचाया नहीं जा सका। 7 अप्रैल को पादरी ए जे सैमुअल, 16 अप्रैल को जॉनसन और 17 अप्रैल को जॉनसन की मां कुंजम्मा की मौत हो गई। शोबी 16 लाख से ज्यादा रुपये का अस्पताल का बिल चुकाकर भी अपनों को नहीं बचा पाई। अभी जॉनसन का बेटा संक्रमित है, जिसका इलाज चल रहा है और शोबी घर में आइसोलेट हैं।
परिवार के चार सदस्य पॉजिटिव
मार्च के अंतिम सप्ताह में पादरी के बेटे जॉनसन सैमुअल का हल्का सा बुखार हो गया था, जिसे सामान्य सर्दी बुखार मानते हुए परिवार ने 61 वर्षीय सॉफ्टवेयर इंजीनियर जॉनसन सैमुअल को डॉक्टर से सामान्य दवा दिलवा दी। तबीयत में सुधार नहीं होने के बाद कोरोना जांच करवाई। 1 अप्रैल को जॉनसन की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इसके बाद परिवार के अन्य सदस्यों की भी कोविड जांच की गई, जिनमें 56 वर्षीय शोबी को छोड़कर बाकी तीनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!
%d bloggers like this: