Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890

प्रयागराज। प्रयागराज जिले के सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना वार्ड की हालत सही नहीं है। इस बारे में मरीज और उनके परिजनों की ढेरों शिकायतें सामने आ चुकी हैं। कोविड-एल-थ्री एसआरएन अस्पताल में पिछले दिनों हुई कोरोना संक्रमित डॉ. जगदीश मिश्र की मौत के बाद ऑक्सीजन की कमी और इलाज में लापरवाही के आरोप लगे। इसके बाद कोरोना संक्रमित एजी दफ्तर के रिटायर कर्मचारी के पिता के शव का बिना सूचना दिए अंतिम संस्कार कर चार दिन बाद डेथ सर्टिफिकेट थमाने का चौकाने वाला मामला सामने आया। अब सोशल मीडिया पर वायरल हुई एक फोटो ने इस अस्पताल की व्यवस्था पर प्रश्नचिह्न खड़े कर दिए हैं।

यह फोटो कोरोना संक्रमित एक ऐसे शव की है, जिसका चेहरा क्षत-विक्षत है। फोटो वायरल करने वालों का दावा है कि चेहरे और शरीर के कुछ अंग को जानवरों ने खा लिया है। यह भी दावा किया जा रहा है कि फोटो एसआरएन अस्पताल स्थित मोर्चरी की है। कोरोना संक्रमित की मौत के बाद कोविड प्रोटोकाल के तहत शव को सील पैक करने के लिए मोर्चरी भेजा गया था। इस फोटो कि सच्चाई क्या है, यह तो जांच के बाद पता चलेगा पर यह जरूर है कि फोटो में शव की दशा देखकर कोई भी हिल जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *