Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890

उज्जैन। कोरोना की दूसरी लहर में पूरा देश जूझ रहा है। उज्जैन जिले में भी कोरोना संक्रमण के मामलों में तेजी से वृद्धि हुई है। जिसे घर पर इलाज करा रहे मरीजों को लगने वाली सामग्री को भी कमी महसूस की जा रही है। कोरोना महामारी में कई जगह अब भी आक्सीजन की कमी बनी हुई। है। किसी तरह आक्सीजन सिलिंडर की व्यवस्था हो भी जाए तो इसके साथ लगने वाले फ्लो मीटर बाजार से गायब है। शहर के बाजार में बमुश्किल यह उपकरण मिल रहा है। इसके चलते  मरीजों के स्वजन और कई दुकानदार बाहर के शहरों से इसे मंगा रहे हैं। खासकर भोपाल, इंदौर व अन्य जगहों से यह मंगाया जा रहा है। इसके कारण यह महंगा मिल रहा है, आने-जाने का खर्च लग रहा है और गुणवत्ता भी ठीक नहीं। मार्च तक बाजार में आसानी से 800 से 1,200 रुपये के बीच उपलब्ध हो रहा फ्लो मीटर अब 3 हजार रुपये तक पहुंच गया है। कई स्वजनों ने बाहर से 2,500 में खरीदा है। स्वजनों का कहना है यह उपकरण जरूरी है, इसलिए मजबूरन ज्यादा पैसा देना पड़ रहा है। एक मरीज के परिजन ने चर्चा में बताया कि कोरोना संक्रमित मरीज का इलाज घर पर करवा रहे है। बमुश्किल आक्सीजन सिलिंडर की व्यवस्था की लेकिन फ्लो मीटर नहीं मिला। दवा बाजार के एक विक्रेता ने कहा आठ दिन बाद मंगवाकर देंगे। अच्छी गुणवत्ता का होने से 3,500 रुपये चुकाए। दवा बाजार के दुकानदार ने बताया कि हम खुद इसकी आपूर्ति बनाए रखने की कोशिश में लगे है, ताकि इस संकट के दौर में लोगों को राहत मिले, लेकिन कई शहरों में लाकडाउन लगा है और कई इंडस्ट्रीज भी बंद है। ऐसे में फ्लो मीटर बनाने वालों का काम भी प्रभावित हुआ है। इसके चलते इसकी कमी हो गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *