Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN
News That Matters

1 जून को केरल तट पर पहुंचेगा मानसून, जमकर बरसेंगे बादल

नई दिल्ली। देश में रोज तेजी से फैल रहे कोरोना संक्रमण की बुरी खबर के बीच मौसम विभाग ने एक अच्छी खबर दी है। मौसम विभाग ने बताया है कि इस साल मानसून निर्धारित समय पर 1 जून को केरल से टकरा जाएगा और देश के कई राज्यों में अच्छी बारिश होने की पूरी संभावना है। मौसम विभाग के मुतापिक मानसून अपने निर्धारित समय से केरल के तटीय क्षेत्र तक पहुंचेगा और किसानों के लिए आगामी फसल वर्ष के शानदार फसल उत्पादन होने की उम्मीद है। पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के सचिव एम. राजीवन ने बताया कि मानसूनी हवाएं उसी के अनुरूप चल रही हैं। मौसम विभाग अब 15 मई को मानसूनी हवाओं की चाल, बादलों में जल की मात्रा और देश के किन हिस्सों में कितनी बारिश होगी इसको लेकर एक रिपोर्ट जारी करेगा।
मौसम विज्ञानियों के पूर्वानुमान के अनुसार चालू सीजन में देश के 75 फीसद भूभाग में बारिश करने वाला दक्षिण-पश्चिम मानसून इस वर्ष पूरी तरह सामान्य रहेगा। ऐसे में यह उम्मीद जताई जा रही है कि देश के 75 फीसद हिस्से में जून से लेकर सितंबर के बीच अच्छी बारिश होने का अनुमान है। मौसम विज्ञानियों ने अनुमान जताया है कि जून से सितंबर के बीच सक्रिय रहने वाले मानसून सीजन में कुल 103 फीसद बारिश हो सकती है।
देश के इन राज्यों में कम हो सकती है बारिश
मौसम विभाग के मुताबिक उत्तरी क्षेत्र के मैदानी भागों और पूर्वोत्तर भारत के कुछ हिस्सों में पूरे सीजन में कम बारिश की आशंका है, वहीं पूर्वी राज्यों बंगाल, ओडिशा, छत्तीसगढ़, झारखंड, बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश में औसत से अधिक बरसात होने का पूर्वानुमान है।
ला नीना प्रभाव के कारण होगी अच्छी बारिश
मौसम विभाग के मुतापिक प्रशांत महासागर में बीते साल से ही ला नीना की स्थिति बनी हुई है, ऐसे में अच्छी बारिश होने की संभावना ज्यादा होती है। साथ ही इस बार पूरे मानसूज सीजन में अल नीनो प्रभाव के संकेत भी नहीं मिल रहे हैं। महासागरों में होने वाली गतिविधियों का कोई दुष्प्रभाव मानसून की चाल पर नहीं पड़ेगा।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!
%d bloggers like this: