Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890

सुबह से पुलिस अधिकारियों ने शुरु किया अभियान, समाज के दुश्मनों को भेजा जा रहा अस्थायी जेल, संक्रमण की चेन तोडऩे के पूरे प्रयास
उज्जैन। एक माह से अधिक समय कोरोना कर्फ्यू लागू हुए हो चुका है। प्रशासन और पुलिस संक्रमण की चेन तोडऩे के पूरे प्रयास कर रही है। आज से बिना काम घरों से निकलने वाले लोगों के वाहन जप्त किए जाने का अभियान शुरू कर दिया गया है। समाज के दुश्मन बन रहे लोगों को अस्थाई जेल भी भेजा जा रहा है।
जिले में संक्रमण का प्रतिशत 10 से अधिक बना हुआ है और प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कह चुके हैं कि जिन जिलों में 5 प्रतिशत से कम संक्रमण की रफ्तार होगी वही आगामी 17 मई से कर्फ्यू को खोला जा सकेगा। जिले में एक माह से अधिक समय कोरोना कर्फ्यू लागू है। जिसके चलते प्रशासन ने संक्रमण की रफ्तार को कम करने के लिए आज से एक नया अभियान शुरू कर दिया है। सुबह से ही अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमरेंद्र सिंह ने मैदान संभाल लिया था। शहर के सभी नगर पुलिस अधीक्षकों के साथ थाना प्रभारी और पुलिस की टीम सख्त कार्रवाई के मूड में नजर आ रही थी। आज से पुलिस द्वारा बेवजह घरों से निकलने वालों के वाहन जप्त किए जाने लगे हैं। जो अब न्यायालय के आदेश पर ही जुर्माना वसूल करने के बाद छोड़ें जाएंगे। सुबह से हर चौराहों पर लोगों को रोककर पूछताछ की जा रही थी और वाहन जप्त किए जा रहे थे। मेडिकल इमरजेंसी वालों को अभियान में राहत दी गई है। दोपहर तक 1 दर्जन से अधिक वाहन जप्त किए जा चुके थे। पुलिस द्वारा रोके जाने पर लोगों द्वारा तरह-तरह के बहाने बनाए जा रहे थे, लेकिन पुलिस सिर्फ अस्पताल आने जाने वालों को ही छोड़ रही थी। कलेक्टर आशीष सिंह ने बीती शाम संक्रमण की चेन तोडऩे के लिए सख्त कार्रवाई के आदेश दे दिए थे।
जुर्माना और अस्थाई जेल की कार्रवाई

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!


पुलिस द्वारा समाज के दुश्मन बन रहे लोगों के खिलाफ भी अभियान चलाया जा रहा है जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने और बिना मास्क घूमने वालों के खिलाफ नगर निगम टीम के साथ जुर्माने की कार्रवाई करते हुए अस्थाई जेल भेजने की कार्रवाई जारी है। आज सुबह के शहर भर में 50 से अधिक लोगों को जेल भेजा जा चुका था वही कई लोगों पर जुर्माने की कार्रवाई की गई है। पुलिस और प्रशासन की टीम जिलाधीश के आदेश का उल्लंघन करते हुए दुकानें खोलने वालों के खिलाफ भी धारा 188 के प्रकरण दर्ज किए जाने का अभियान चलाया जा रहा है।
चेन टूटेगी तभी मिलेगी राहत

आने-जाने वालों से पूछताछ करती सीएसपी।


जिले में प्रतिदिन ढाई सौ से अधिक संक्रमित मरीजों की पुष्टि हो रही है। 3 हजार से अधिक संक्रमित मरीजों का उपचार अस्पतालों में चल रहा है। प्रतिदिन 1500 से 2000 लोगों के सैंपल स्वास्थ्य विभाग द्वारा लिए जा रहे हैं। कोरोना कर्फ्यू से जिले को सभी राहत मिल पाएगी जब संक्रमण की चेन टूटेगी। फिलहाल तो शहर में राहत की उम्मीद नजर नहीं आ रही है। जिसके लिए प्रशासन द्वारा हर स्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं। वैसे पिछले कुछ दिनों से हालातों में काफी सुधार हुआ है बावजूद अब भी खतरा बना हुआ है। लोगों से गाइडलाइन का पालन करने की लगातार अपील की जा रही है।

मेडिकल इमरजेंसी के लिए बाहर निकले व्यक्ति का पास चेक करते टीआई।