Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890

सावधान खतरा टला नहीं है…
आज सुबह सड़कों पर दिखाई दी बड़ी तादाद में आवाजाही
माटी की महिमा न्यूज /उज्जैन

प्रशासन और पुलिस की मेहनत का असर अनलॉक के रूप में सामने आया है। लेकिन अभी सावधान रहने की आवश्यकता है खतरा टला नहीं है। लेकिन लोग बेपरवाह दिखाई देने लगे हैं। आज सुबह सड़कों पर बड़ी तादाद में आवाजाही देखी गई वही कई लोगों के चेहरे पर मास्क भी नहीं था।
1 जून से शहर में अनलॉक प्रक्रिया शुरू की जा रही है। सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक नियम और शर्तों के साथ बाजार खोला जाएगा। पिछले 50 दिनों से शहर कोरोना कर्फ्यू के बीच से गुजर रहा है। पुलिस और प्रशासन ने संक्रमण की रफ्तार रोकने के लिए दिन रात मेहनत की है जिसका परिणाम कल से सामने आएगा अब जिम्मेदारी शहरवासियों की होगी ताकि आने वाले समय में तीसरी लहर का सामना ना करना पड़े। लेकिन इस बीच अनलॉक की खबर सामने आते ही एक बार फिर लापरवाही के नजारे दिखाई देने लगे हैं। कोरोना की जंग में सबसे बड़ा हथियार मास्क और 2 गज की दूरी को माना गया है जिसका पालन पिछले 50 दिनों से पुलिस और प्रशासन की टीम करा रही है, आज सुबह शहर में कई लोग बिना मास्क के दिखाई दिए हैं। जिसमें फल और सब्जी का व्यवसाय करने वाले अधिक संख्या में दिखाई दे रहे थे। खरीदारी करते समय लोगों ने भी अपने चेहरे से मास्क हटा लिए थे। लोगों को लगने लगा है कि कोरोना चला गया है। लेकिन सावधान रहने की आवश्यकता है खतरा अभी टला नहीं है। सड़कों पर बड़ी आवाजाही के बीच कई वाहन चालकों ने भी अपने चेहरे से मास्क को नीचे कर लिया था। अनलॉक प्रक्रिया में ऐसे लापरवाह लोगों से निपटना पुलिस के लिए चुनौती भरा होगा। प्रशासन ने अनलॉक की गाइडलाइन जारी की है जिसका पालन पुलिस को ही कराना होगा।
गली मोहल्लों में भी बिना मास्क के घुम रहे लोग
शहर में संक्रमण की रफ्तार काफी कम हो चुकी है। अस्पतालों में खाली पलंगों की संख्या भी प्रतिदिन बढ़ती नजर आ रही है।
इस बीच गली मोहल्लों में कोरोना तो हो रही है पर गाइडलाइन का पालन नहीं किया जा रहा है। गली मोहल्लों में युवाओं की भीड़ बिना मास्क के दिखाई दे रही है। शाम के समय महिलाएं भी अब आस पड़ोस की महिलाओं से बातचीत करने के लिए निकलने लगी है उनके चेहरे पर भी मास्क दिखाई नहीं दे रहा है। गली मोहल्ले में खेलते दौड़ते बच्चे भी बिना मास्क के ही देखे जा सकते हैं परिजन उन्हें अब समझाने का प्रयास भी नहीं कर रहे हैं। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन तो गली मोहल्लों में होता दिखाई ही नहीं दे रहा है।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!