Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890

पंखे, बिजली के बोर्ड गायब, खिड़कियां भी तोड़ी
माटी की महिमा न्यूज /उज्जैन

1 साल से कोरोना की जंग से लड़ रहे शहर में अब कई भवनों और स्थानों के हालात बिगड़े नजर आ रहे हैं। जिसमें जिला अस्पताल का पुराना प्रसुति गृह जो कैंसर यूनिट के रूप में स्थापित किया गया था शामिल हो गया है।
जिला अस्पताल प्रसूति गृह चरक भवन में स्थानांतरित होने के बाद पुराने भवन को कैंसर यूनिट के रूप में बनाया गया था। जहां दर्जनों मरीज अपना उपचार कराने के साथ कीमो थेरेपी के लिए पहुंचने लगे थे। प्रसूति गृह भवन में स्वास्थ्य कर्मियों के लिए प्रशिक्षण केंद्र भी बना दिया गया था। पिछले 1 साल से कोरोना संक्रमण के चलते कैंसर यूनिट में भर्ती मरीजों को छुट्टी दे दी गई थी। वही यूनिट में मरीजों के नहीं आने पर इसे बंद कर यहां सेवा देने वाले स्टाफ को संक्रमण काल की ड्यूटी पर लगा दिया गया था। कैंसर यूनिट के बंद होने का फायदा असामाजिक तत्वों ने उठाना शुरू कर दिया और यहां नशाखोरी के साथ पिछले रास्ते से अनैतिक काम होने लगे। हालात ऐसे बने कि असामाजिक तत्वों ने भवन की खिड़कियां तोड़ कर एलुमिनियम सेक्शन चोरी कर लिए। यही नहीं खिड़कियां खुली होने पर अंदर कक्षों में प्रवेश किया जाने लगा और पंखे, बिजली के बोर्ड, रात में रोशनी के लिए लगाए गए हाई मास्क तक चोरी कर लिए गए। भवन पुराना होने पर यहां कुछ कक्षों का संधारण कार्य कराया गया था उसे भी क्षतिग्रस्त कर दिया गया। अस्पताल प्रशासन की अनदेखी ने कैंसर यूनिट को पूरी तरह से जर्जर भवन के रूप में पहुंचा दिया है।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

लाखों के जनरेटर में लगाई थी आग
पिछले दिनों कैंसर यूनिट के पिछले से में असामाजिक तत्वों ने लाखों रुपए कीमत के दो जनरेटर को तोड़कर चुराने का प्रयास किया था जिसमें सफल नहीं होने पर आग लगा दी गई थी। 40 लाख के जनरेटर पूरी तरह से जल चुके थे। आगजनी के बाद अस्पताल प्रशासन ने जनरेटर की देखरेख करने वाले कर्मचारी की ओर से देवास गेट थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। बावजूद इसके अब तक आगजनी को अंजाम देने वालों का सुराग नहीं लग पाया है।