Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890

माटी की महिमा न्यूज /उज्जैन
मानसून केरल से आगे बढऩे लगा है। साथ ही अरब सागर और बंगाल की खाड़ी में मानसूनी हलचल तेज होने लगी है। इस वजह से मध्यप्रदेश के वातावरण में भी नमी बढऩे लगी है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक वर्तमान में दक्षिण-पश्चिमी उत्तरप्रदेश और उससे लगे मप्र पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। अरब सागर में भी ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। इस वजह से आ रही नमी आने का सिलसिला लगातार बना हुआ है। मौजूदा स्थिति को देखते हुए उज्जैन सहित प्रदेश के अधिकांश जिलों में तेज बौछारें पडऩे के आसार बने हुए हैं।
मौसम वैज्ञानिको ने बताया कि वातावरण में लगातार नमी आने के कारण मानसून पूर्व की गतिविधियों में तेजी आने लगी है। आद्रता बढऩे के कारण बादल छा रहे हैं। धूप नहीं निकलने की वजह से अधिकतम तापमान में गिरावट होने लगी है। हालांकि बीच-बीच में कुछ धूप निकलने से वातावरण में उमस भी बरकरार है।
वर्तमान में तीन वेदर सिस्टम प्रदेश में हैं सक्रिय
मौसम वैज्ञानिको ने बताया कि वर्तमान में एक पश्चिमी विक्षोभ जम्मू पर ऊपरी हवा के चक्रवात के रूप में बना हुआ है। दक्षिण-पश्चिमी उत्तरप्रदेश और उससे लगे मप्र पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। इस चक्रवात से लेकर एक द्रोणिका लाइन (ट्रफ) कर्नाटक से तमिलनाडू तक बनी हुई है। इस वजह से मप्र में लगातार नमी आ रही है। इस वजह से शनिवार-रविवार को उज्जैन सहित प्रदेश के अधिकांश जिलों में रुक-रुक कर तेज बौछारें पडऩे की संभावना है।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!