Domain Registration ID: DF4C6B96B5C7D4F1AAEC93943AAFBAA6D-IN Editor - Rahul Singh Bais, Add: 10, Sudama Nagar Agar Road Ujjain M.P. India, Mob: +91- 81039-88890
News That Matters

dharm

2 फरवरी से गुप्त नवरात्र, देवी आराधना के साथ शुभ कार्यों के लिए रहेंगे विशेष मुहूर्त
dharm, India, mp, Ujjain

2 फरवरी से गुप्त नवरात्र, देवी आराधना के साथ शुभ कार्यों के लिए रहेंगे विशेष मुहूर्त

उज्जैन। माघ मास की गुप्त नवरात्र का 2 फरवरी को वरयान योग की साक्षी में आरंभ होगा। देवी आराधना के नौ दिवसीय पर्व काल में यंत्र, मंत्र व वैदिक तंत्र की साधना का विशेष महत्व है। खास बात यह है कि नवरात्र के नौ दिनों में पांच रवियोग व दो सर्वार्थ सिद्धि योग का संयोग बन रहा है। शुभ मांगलिक कार्यों की शुरुआत के लिए लिए यह महामुहूर्त श्रेष्ठ फल प्रदाता माने गए हैं।ज्योतिषाचार्यों के अनुसार वर्षभर में चार नवरात्र आते हैं। इनमें चैत्र व अश्विन मास की नवरात्र को प्रकट तथा आषाढ़ व माघ मास की नवरात्र गुप्त कही जाती है। इस बार माघी गुप्त नवरात्र का आरंभ 2 फरवरी को बुधवार के दिन धनिष्ठा नक्षत्र, वरयान योग, बव करण तथा कुंभ राशि के चंद्रमा की साक्षी में हो रहा है। पंचांग की यह पांच स्थितियां देवी आराधना व गुप्त साधना के लिए विशेष मानी जाती है। नौ दिवसीय नवरात्र में द्वितीया तिथि का क्षय रहेगा। साथ ही ...
रानीगांव नगरे अंजनशलाका, जहा विराजेंगे श्री सुमतिनाथ भगवंत। सकल श्री संघ हर्षाया,नगरे पधारे पूज्य परमात्मा – गुरुभगवंत
dharm

रानीगांव नगरे अंजनशलाका, जहा विराजेंगे श्री सुमतिनाथ भगवंत। सकल श्री संघ हर्षाया,नगरे पधारे पूज्य परमात्मा – गुरुभगवंत

रानीगांव में प्रतिष्ठा के लिए आचार्य का भव्य नगर प्रवेश बाड़मेर । राणीगाँव में नवनिर्मित शिखरबद्ध श्री सुमतिनाथ जिनालय की अंजनशलाका प्रतिष्ठा महोत्सव का आगाज 13 जनवरी से होगा प्रतिष्ठा महोत्सव हेतु श्री परमात्मा सह प्रतिमाओ सहित परम पूज्य खरतरगच्छाचार्य गुरुदेव श्री जिनमनोज्ञसुरीश्वरजी महाराजा साहेब आदि साधु साध्वी मंडल का आज भव्य शोभायात्रा के साथ नगर प्रवेश संपन्न हुआ जिसमें सैकड़ों धर्मावलंबी गुरु भक्त जनों ने भाग लिया राणीगाँव में बाड़मेर चौहटन धोरीमन्ना सांचौर सूरत नवसारी जैसलमेर अहमदाबाद छत्तीसगढ़ आदि कई जगह से भक्तजन शोभा यात्रा मे पधारे,गुरु दर्शन~वंदन का लाभ लिया।गुरु भगवंत व प्रतिमा जी का भव्य शोभायात्रा के साथ नगर प्रवेश हुआ बाड़मेर रानी गांव में नवनिर्मित श्री सुमतिनाथ मंदिर जिनालय की अंजन शलाका प्रतिष्ठा महोत्सव का आगाज 13 जनवरी से होगा प्रतिष्ठा महोत्सव हेतु आचार्य मनोज्...
वाराणसी घाट में गैर-हिंदुओं के प्रवेश पर प्रतिबंध
dharm, India

वाराणसी घाट में गैर-हिंदुओं के प्रवेश पर प्रतिबंध

विहिप और बजरंग दल ने लगाए पोस्टर, कहा- पिकनिक स्पॉट नहींवाराणसी। गंगा के किनारे वाराणसी के घाटों में गैर-हिंदुओं के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाने वाले पोस्टर दीवारों पर दिखाई दिए। जिन्हें कथित तौर पर विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं द्वारा चिपकाया गया था। वहीं पोस्टर पर लिखा है कि मां गंगा काशी के घाट व मंदिर सनातन धर्म, भारतीय संस्कृति श्रद्धा व आस्था का प्रतीक है। जिनका आस्था सनातन धर्म में हो उनका स्वागत है। अन्यथा यह क्षेत्र पिकनिक स्पॉट नहीं है।बजरंग दल के नगर संयोजक निखिल त्रिपाठी ने कहा कि इन पोस्टरों के माध्यम से घाट को पिकनिक स्पॉट मानने वालों को स्पष्ट संदेश दिया गया है। उन्होंने कहा, हम उन्हें गंगा के घाटों से दूर रहने की चेतावनी दे रहे हैं, क्योंकि यह पिकनिक स्थल नहीं बल्कि सनातन संस्कृति का प्रतीक है। विहिप के नगर सचिव राजन गुप्ता ने कहा कि जिन्हें सनातन धर्म ...
कोरोना से मुक्ति के लिए मेहता ने निकाली 40 किलोमीटर की दंडवत यात्रा
corona virus, dharm, India, mp, Ujjain

कोरोना से मुक्ति के लिए मेहता ने निकाली 40 किलोमीटर की दंडवत यात्रा

उज्जैन। कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन की समाप्ति के लिए उज्जैन में पंडित ईश्वर मेहता ने 40 किलोमीटर की दंडवत यात्रा निकाली, जो महाकाल के दरबार में समाप्त हुई। इस यात्रा के दौरान पंडित ईश्वर मेहता ने लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क के साथ-साथ सैनिटाइजर के उपयोग की अपील भी की। उज्जैन के उन्हेल के रहने वाले पंडित ईश्वर मेहता की ये दंडवत यात्रा लगभग 1 सप्ताह में उज्जैन पहुंची।इस मौके पर उन्होंने मास्क लगाकर, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करके और सैनिटाइजर के उपयोग से कोरोना के खिलाफ जंग में सभी अपना योगदान दे सकते हैं। इस दौरान पंडित ईश्वर मेहता ने कोरोना वैक्सीन लगवाने की अपील भी की। गौरतलब है कि उज्जैन जिले में भी कोरोना पॉजिटिव मरीज लगातार बढ़ते जा रहे हैं। आसपास जिलों में भी कोरोना का ग्राफ बढ़ता जा रहा है। इसी वजह से साधु-संतों द्वारा भी अलग-अलग प्रकार से जनता से अपील की जा रही है।...
नए वर्ष में खूब सुनाई देगा बैंड, बाजा, बारात का शोर
dharm, India, mp, Ujjain

नए वर्ष में खूब सुनाई देगा बैंड, बाजा, बारात का शोर

उज्जैन। सनातन हिंदू धर्म में बिना मुहूर्त के शादियां नहीं की जाती हैं। लोग शुभ मुहूर्त देखकर ही शादियां करते हैं। चाहे कितने ही दिन रुकना पढ़े। ऐसे में 2021 की बात करें तो शादी के शुभ मुहूर्त काफी कम थे, दूसरा कोरोना के कारण भी शादियां कम हो पाईं, लेकिन 2022 शादियों के लिए अनेकों शुभ मुहूर्त लेकर आ रहा है।ज्योतिषाचार्यों के अनुसार 16 दिसंबर से खरमास शुरू हो गया है। सूर्य की धनु राशि के कारण खरमास का प्रारंभ होता है। इन दिनों सभी तरह के मांगलिक कार्य नहीं किए जाते। मकर संक्रांति 14 जनवरी तक खरमास रहेगा। जिसके कारण विवाह के मुहूर्त नहीं होंगे। विवाह मुहूर्त में गुरु शुक्र अस्त का विचार किया जाता है। अच्छा शुक्र भोग विलास का नैसर्गिक कारक है और दांपत्य को दर्शाता है। गुरु कन्या के लिए पति सुख का कारक है। दोनों ग्रहों का शुभ विवाह हेतु उदय होना शास्त्र सम्मत है। वर्ष 2022 में 90 दिन व...
सारा अली खान के लिए महाकाल मंदिर में टूटे नियम, नंदी हाल से करवाए दर्शन
Bollywood, dharm, India, mp, Ujjain

सारा अली खान के लिए महाकाल मंदिर में टूटे नियम, नंदी हाल से करवाए दर्शन

उज्जैन। फिल्म अभिनेत्री सारा अली खान ने रविवार शाम को उज्जैन में महाकाल के दर्शन किए। उनके लिए मंदिर प्रशासन ने नियम तक तोड़ दिए. रविवार को भीड़ अधिक होने से सभी के लिए बेरिकेट्स से ही दर्शन व्यवस्था तय थी. लेकिन सारा को नंदी हाल से महाकाल के दर्शन करवाए। राजनेता, बॉलीवुड स्टार समेत तमाम वीआईपी महाकाल का आशीर्वाद लेने उज्जैन आते रहते है। इसी कड़ी में अपनी फिल्म की शूटिंग के लिए इंदौर पंहुची सेफ अली खान और अमृता सिंह की बेटी बॉलीवुड स्टार सारा अली खान ने महाकाल मंदिर पंहुचकर दर्शन किये। इस दौरान शाम को होने वाली संध्या कालीन आरती में भी वे शामिल हुईं. सारा इस दौरान पूरे समय आरती में बैठी रहीं। आरती ख़त्म होने के बाद भगवान महाकाल का आशीर्वाद लेकर इंदौर के लिए रवाना हो गईं। सारा अली खान बेहद साधारण वेशभूषा में दर्शन करने पंहुची थीं। ...
आज से शुरू हुआ पौष माह, तिल का सेवन करने से मिलेगा स्वास्थ्य लाभ
dharm, India, mp, Ujjain

आज से शुरू हुआ पौष माह, तिल का सेवन करने से मिलेगा स्वास्थ्य लाभ

उज्जैन। आज 20 दिसंबर से पौष माह की शुरूआत हो गई है। ज्योतिष शास्त्र में तो इस माह का विशेष महत्व बताया ही गया है वहीं आयुर्वेद शास्त्र के जानकारों का भी यह कहना है कि यदि इस माह के दौरान तिल का सेवन किया जाए तो स्वास्थ्य लाभ अवश्य ही प्राप्त होता है।ज्योतिषियों ने बताया कि पौष माह के दौरान सूर्य की आराधना करने का विशेष महत्व है। यदि किसी व्यक्ति का सूर्य ग्रह कमजोर है तो उसे सूर्य देव की आराधना अवश्य ही करना चाहिए, इससे निश्चित ही प्रसन्नता प्राप्त होगी। जीवन में सफलता के लिए कुंडली में सूर्य का मजबूत होना बहुत जरूरी है। सूर्य के मजबूत होने पर व्यक्ति बहुत आत्मविश्वासी होता है। वो खूब नाम और पैसा कमाता है, साथ ही तेजी से सफलता की सीढ़ी चढ़ता है और हर जगह मान सम्मान प्राप्त करता है। लेकिन सूर्य की स्थिति कमजोर होने पर व्यक्ति का जीवन मुश्किलों से घिर जाता है। ऐसे व्यक्ति के पिता से...
बच्चों का धर्म परिवर्तन कराने का आरोप लगा भीड़ ने स्कूल पर किया हमला
Bhopal, Crime, dharm, India, mp

बच्चों का धर्म परिवर्तन कराने का आरोप लगा भीड़ ने स्कूल पर किया हमला

भोपाल। धर्म परिवर्तन के आरोप में मध्यप्रदेश के एक स्कूल में भीड़ के हमले का मामला सामने आया है। आरोप है कि इस भीड़ में हिंदूवादी संगठन के भी कुछ लोग शामिल थे, जिन्होंने स्कूल पर पत्थरबाजी और तोड़-फोड़ की। यह घटना उस समय घटी जब स्कूल में बच्चे सीबीएसई 12वीं की बोर्ड परीक्षा दे रहे थे।पुलिस ने बताया कि हमला सोमवार सुबह विदिशा जिले के गंज बासौदा के सेंट जोसेफ स्कूल पर किया गया। हालांकि, इस हमले में बच्चों व स्कूल स्टॉफ को किसी भी प्रकार की चोट नहीं आई है, सभी पूरी तरह से सुरक्षित हैं। घटना के बाद स्कूल मैनेजर ब्रदर एंटोनी ने बताया कि उनके स्कूल को लेकर एक पत्र प्रसारित किया जा रहा है, इसमें लिखा है कि सेंट जोसेफ स्कूल में आठ हिंदू छात्रों का धर्म परिवर्तन कराकर उन्हें ईसाई बनाया गया। जबकि, वे छात्र हमारे स्कूल के नहीं हैं। उन्होंने बताया कि जो पत्र प्रसारित किया जा रहा है वह 31 अक्तू...
बाबा महाकाल की निकली सवारी बाबा महाकाल की निकली सवारी
dharm, India, mp, Ujjain

बाबा महाकाल की निकली सवारी बाबा महाकाल की निकली सवारी

माटी की महिमा न्यूज /उज्जैनभगवान महाकाल की हर साल कार्तिक-अगहन माह में निकलने वाली चार सवारियों में आखिरी सवारी मंदिर परिसर से शाम निकली। सावन-भादौ महीने में निकलने वाली शाही सवारी की तरह भी आखिरी सवारी को शाही सवारी की तरह निकाली गई।सबसे पहले भगवान महाकाल के चंद्रमौलीश्वर स्वरूप का पूजन पं. घनश्याम शर्मा ने किया। मंदिर समिति के प्रशासक गणेश धाकड़ ने पालकी को कंधा देकर रवाना किया। मंदिर के मुख्य द्वार पर सशस्त्र बल के जवानों द्वारा पालकी में विराजित चन्द्रमौलीश्वर भगवान को सलामी दी। यहां से सवारी परंपरागत मार्ग पर निकलेगी। सवारी देर शाम वापस लौट आई। शाही सवारी का जगह-जगह भक्तों द्वारा पुष्पवर्षा कर स्वागत किए जा रहे हैं। ...
देवस्थानम बोर्ड भंग, साधु-संतों की मांग के आगे झुकी उत्तराखंड सरकार
dharm, India

देवस्थानम बोर्ड भंग, साधु-संतों की मांग के आगे झुकी उत्तराखंड सरकार

देहरादून। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का फैसला पलट दिया है। उन्होंने देवस्थानम बोर्ड को भंग कर दिया है। इस बोर्ड का लंबे समय से विरोध हो रहा था और तीर्थ-पुरोहित इसे भंग करने की मांग पर आंदोलन कर रहे थे। माना जाता है कि त्रिवेंद्र सिंह रावत की कुर्सी साधु-संतों की नाराजगी की वजह से ही चली गई थी।देवस्थानम बोर्ड का गठन जनवरी 2020 में तब के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने किया था। इस बोर्ड के गठन के जरिए 51 मंदिरों का नियंत्रण राज्य सरकार के पास आ गया था। उत्तराखंड में केदारनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री और बद्रीनाथ चार धाम हैं। इन चारों धामों का नियंत्रण भी सरकार के पास आ गया था। तब से ही तीर्थ-पुरोहित इस फैसले को वापस लेने की मांग पर अड़े हुए थे। इसी साल जुलाई में पुष्कर सिंह धामी को मुख्यमंत्री बनाया गया था। उन्होंने तीर्थ-पुरोह...